Daily Archives: March 3, 2017

लॉ ग्रैजुएट कोर्स के लिए उम्र सीमा बढ़ाने के फैसले पर रोक

नई दिल्ली। इस साल लॉ ग्रैजुएट कोर्स के लिए कोई आयु सीमा नहीं होगी। सुप्रीम कोर्ट ने बार काउंसिल ऑफ इंडिया के लॉ ग्रैजुएट कोर्स के लिए उम्र की सीमा बढ़ाने के फैसले पर रोक लगा दी है। कोर्ट ने कहा कि एक तरफ तो आप लीगल एजुकेशन को प्रमोट करने की बात कह रहे हैं और दूसरी तरफ आयु सीमा की पाबंदी लगा रहे है। अब जुलाई के तीसरे हफ्ते में इस मामले पर सुनवाई होगी। दरअसल, बार काउंसिल ऑफ इंडिया ने लॉ ग्रैजुएट कोर्स के लिए उम्र की सीमा बढ़ा दी थी। इसके तहत 5 साल के लॉ कोर्स के लिए जनरल कैटिगरी में मौजूदा 20 साल की उम्र सीमा को बढ़ाकर 22 साल कर दिया गया था जबकि एससी व एसटी कैटिगरी के लिए इसे 24 साल किया गया है।
वहीं, 3 साल के लॉ कोर्स के लिए जनरल कैटिगरी की उम्र सीमा को 30 साल से बढ़ाकर 45 साल और एससी-एसटी के लिए 47 साल कर दिया गया है।साथ ही आगे उम्र की सीमा क्या रखी जाए, इसके लिए लीगल एजुकेशन कमिटी द्वारा एक सब कमिटी का गठन किया गया है।

गायत्री ‘गायब’, एयरपोर्ट पर जारी हुआ अलर्ट

लखनऊ। यूपी सरकार के मंत्री गायत्री प्रजापति पर एक नाबालिग से गैंगरेप के आरोपी मंत्री गायत्री प्रजापति के विदेश भागने की खबरों के बाद एयरपोर्ट और एग्जिट पॉइंट पर अलर्ट जारी कर दिया गया है। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद गायत्री और 6 अन्य लोगों पर गैंगरेप का मुकदमा दर्ज हुआ था। गायत्री अमेठी में 5वें चरण में वोट डालकर ‘गायब’ हो गए हैं और पुलिस उन्हें ढूंढ रही है। उधर, इस मामले पर सीएम अखिलेश यादव ने पहली बार चुप्पी तोड़ी है। अखिलेश यादव ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में इस मामले की जांच चल रही है। अखिलेश ने दावा किया कि राज्य सरकार यूपी पुलिस को पूरा सहयोग कर रही है और दोषी किसी कीमत पर नहीं बचेंगे।

राष्ट्रपति भवन के आवासीय कार्यक्रम में  कलाकारों का नया बैच शामिल

राष्ट्रपति भवन के आवासीय कार्यक्रम के अंतर्गत चयनित 10 नवाचार विद्वान, 2 लेखक और 2 कलाकार आज (03 मार्च, 2017) से राष्ट्रपति भवन में रहने लगे। यह विद्वान लेखक और कलाकार 18 मार्च, 2017 तक राष्ट्रपति भवन में ही रहेंगे। राष्ट्रपति भवन में ठहरने वाले नवाचारियों में हरियाणा के श्री सुरजित सिंह (नवाचार : सुरजित बासमती 1 – उच्च पैदावार और नमक सहन करने वाली धान की प्रजाति), नगालैंड के श्री मोआ सुबोंग (नवाचार : बमहुम- 1 नवाचारी पवन संगीतयंत्र), उत्तर प्रदेश के अजय कुमार शर्मा (नवाचार : जैव गैस बोटलिंग के लिए किसान उपयोग अनुकूल कम्प्रेशर), तमिलनाडु के श्री आकाश मनोज (नवाचार : बिना चीरा लगाए धीरे से हुए हार्ट अटैक की स्वयं पहचान), कर्नाटक के श्री गिरीश बद्रागोंद (नवाचार : कम लागत के गढ्ढा खुदाई स्कैनर), गुजरात के श्री मनसुखभाई प्रजापति (नवाचार : चिकनी मिट्टी का रेफ्रीजेटर, नॉनस्टीक चिकनी मिट्टी का तवा और चिकनी मिट्टी का कुकर), राजस्थान के श्री सुभाष ओला (नवाचार : संशोधित दूध बॉयलर), बिहार की सुश्री शालिनी कुमारी (नवाचार : पैर सुनियोजन सुविधा वाला संशोधित वॉकर), गुजरात के श्री परेश पंचाल (नवाचार : बांस की पट्टी, सुंगधित धूपबत्ती और सुगंधी बनाने वाली मशीन) तथा राजस्थान की श्रीमती संतोष पछार (नवाचार : लक्ष्मणगढ़ चयन : संशोधित गाजर प्रजाति )। (संक्षिप्त ब्यौरे संलग्न हैं)

राष्ट्रपति भवन में ठहरने वाले लेखक हैं

गुजरात के साहित्य अकादमी युवा पुरस्कार विजेता श्री अशोक कुमार पी. चावड़ा तथा बांग्ला कवि श्री प्रबल कुमार बसु। श्री बसु को कविताओं की पहली पुस्तक “तुमी प्रथम” के लिए गौरी भट्टाचार्यजी स्मृति पुरस्कार मिला।

राष्ट्रपति भवन में ठहरने वाले कलाकारों में : 50वां महाराष्ट्र राज्य पुरस्कार 2010 के विजेता श्री राहुल, शैलेन्द्र कोकास्ते तथा 2016 का 57वां कला अकादमी पुरस्कार विजेता श्री धीरज यादव शामिल हैं। (विस्तृत ब्यौरा संलग्न है)

राष्ट्रपति ने आवासीय कार्यक्रम का उद्घाटन 11 दिसंबर, 2013 को किया था। इसका उद्देश्य लोगों की सृजनात्मक और नवाचारी क्षमता को प्रोस्साहित करना तथा गतिविधियों में नागरिकों की अधिक भागीदारी के लिए राष्ट्रपति भवन खोलना है।

राष्‍ट्रपति ने यांत्रिकी प्रशिक्षण संस्‍थान को ‘कलर्स’ प्रदान किए

भारतीय सशस्त्र बलों के सर्वोच्च कमांडर राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने आज वायु सेना स्‍टेशन ताम्‍बरम, तमिलनाडु में भारतीय वायुसेना के 125 हैलिकॉप्‍टर स्‍क्‍वाड्रन को ‘स्‍टेंडर्ड’ और यांत्रिकी प्रशिक्षण संस्‍थान को ‘कलर्स’ प्रदान किए। 125 हेलीकाप्टर स्क्वाड्रन ग्रुप के कमांडिग ऑफिसर कैप्टन वी डी बदोनी और एमटीआई के कमांडिंग ऑफिसर ग्रुप कैप्टन ए अरुणाचलेस्वरन ने क्रमशः राष्ट्रपति के स्टैंडर्ड और कलर्स प्राप्त किया।औपचारिक परेड का नेतृत्व ग्रुप कैप्टन ग्रुप कैप्टन ए अरुणाचलेस्वरन ने किया। समारोह के दौरान राष्ट्रपति ने 125 हैलिकॉप्टर स्कवाड्रन और यांत्रिकी प्रशिक्षण संस्थान का फर्स्ट कवर भी जारी किया। इस अवसर पर तमिलनाडु के राज्यपाल और तमिलनाडु प्रशासन के वरिष्ठ सरकारी अधिकारी, एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ, वायु सेना प्रमुख एयर मार्शल सी हरि कुमार, एयर ऑफिसर कमांडिंग -इन- चीफ, पश्चिमी वायु कमान के एयर मार्शल एसआरके नायर, एयर ऑफिसर कमांडिग-इन- चीफ, ट्रेनिंग कमांड के साथ वरिष्ठ अधिकारी और अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे।इस अवसर पर राष्‍ट्रपति ने भारतीय वायुसेना के 125 हैलिकॉप्‍टर स्‍क्‍वाड्रन और यांत्रिकी प्रशिक्षण संस्‍थान को बधाई दी और कहा कि इन इकाइयों का समृद्ध विरासत और राष्‍ट्र के लिए निस्‍वार्थ सेवा का गौरवशाली अतीत है। राष्‍ट्रपति ने कहा कि भारत बहुध्रुवीय और बहुपक्षीय विश्‍व में जिम्‍मेदार तथा उभरती शक्ति है। हमारे क्षेत्र में सामाजिक, आर्थिक तथा भू-राजनीतिक परिदृश्‍य में लगातार हो रहे बदलाव के कारण हमारे देश की प्रगति, समृद्धि और सुरक्षा को प्रभावित करने वाले नापाक इरादों को मजबूती से रोकने की जरूरत हमेशा रही है। बाहरी और आंतरिक दोनों ही तरह के खतरों से निपटने के अलावा हमारे सैन्‍य बल प्राकृतिक आपदाओं के समय हमारे नागरिकों को राहत प्रदान करने में भी आगे हैं। अथक और निस्‍वार्थ संचालन हमारे वीर यौद्धाओं के धैर्य और प्रतिबद्धताओं को दर्शाता है।राष्‍ट्रपति ने कहा कि भारतीय वायुसेना ने हमारे राष्‍ट्र की संप्रभुता की रक्षा करने में तकनीकी रूप से उन्‍न्‍त इकाई के रूप में विकास किया है। हमारे देश के युवाओं के लिए हमारे वीरों द्वारा प्रदर्शित की गई दृढ़ता और प्रतिबद्धता अनुकरणीय हैं।

गायत्री पर शाह ने अखिलेश को घेरा

वाराणसी। यूपी विधानसभा के अंतिम दो चरणों के चुनाव से ठीक पहले बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने वाराणसी में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी की सरकार पर जोरदार हमला बोला। अमित शाह ने गैंगरेप आरोपी मंत्री गायत्री प्रजापति की फरारी का मुद्दा उठाते हुए कहा कि हैरानी है कि सरकार उनसे सरेंडर करने की अपील कर रही है जबकि उसे कार्रवाई करना चाहिए। शाह ने कहा कि अखिलेश सरकार को 11 मार्च से पहले गायत्री प्रजापति को गिरफ्तार करना चाहिए। नहीं करते तो बीजेपी सरकार बनते ही पाताल से भी ढूंढ लाएगी। अमित शाह ने कहा, ‘2014 की तरह ही यूपी में बीजेपी की आंधी दिखाई दे रही है। अभी की शासन व्यवस्था के खिलाफ जनता में आक्रोश है। 15 साल का एसपी-बीएसपी का क्रम खत्म करना है। 5 चरणों में ही बीजेपी को बहुमत मिल गया है। यूपी की जनता मोदी की तरफ देख रही है। इस राज्य में भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है। अखिलेश सरकार में बेरोजगारी ज्यादा है। सरकार युवाओं को रोजगार देने की जगह बेरोजगारी भत्ता दे रही है। अमित शाह ने बीएसपी सुप्रीमो मायावती पर भी निशाना साधा। अमित शाह ने कहा कि जनता जानना चाहती है कि जिस बीएसपी में अफजाल-मुख्तार अंसारी हो वह हाथी कैसे गुंडा शासन से मुक्ति दे सकता है। अमित शाह गायत्री प्रजापति के मुद्दे पर भी अखिलेश को घेरते नजर आए। शाह ने कहा, ‘जो शासन में रहते हैं उनकी जिम्मेदारी होती है गुनहगार को पकड़ने की। लाचारी से मुख्यमंत्री कहते हैं कि वह (प्रजापति) सरेंडर कर देंगे। क्या पुलिस की जिम्मेदारी नहीं उन्हें पकड़ने की। पीड़िता पुलिस के पास जाती है कार्रवाई नहीं होती है। सुप्रीम कोर्ट अदेश देता है तो एफआईआर दर्ज हुई। सीएम ने उसके पक्ष में प्रचार किया और मतदान के बाद वह गायब हो जाते हैं। इससे लाचार सरकार आजाद भारत में कभी नहीं देखी।’