धर्मसभा में मिलेगा वेद-विज्ञान का ज्ञानः डॉ. रमन सिंह

रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह आज शाम राजनांदगांव जिला मुख्यालय में आयोजित विशाल आध्यात्मिक धर्मसभा में शामिल हुए। उन्होंने स्थानीय उदयाचल परिसर में आयोजित इस धर्मसभा में गोर्वधन मठ पुरी के पीठाधीश्वर महाराज जगदगुरू शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती को नमन कर उनसे छत्तीसगढ़ के विकास और सुख-समृद्धि के लिए आशीर्वाद ग्रहण किया। उन्होनें इस धर्मसभा में पूजा-अर्चना की। इस अवसर पर आयोजन समिति धर्म संघ पीठ परिषद के संयोजक श्री नीलू शर्मा ने जगदगुरू शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती जी और मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का स्वागत किया। यह आध्यात्मिक धर्मसभा 17 मार्च तक आयोजित की गई है।
धर्मसभा के शुभारंभ अवसर पर डॉ. रमन सिंह ने कहा कि छसगढ़ में बलरामपुर से लेकर बस्तर तक राम नाम का प्रवाह है। प्राचीन कौशल्या नगरी से लेकर दंडकारण्य तक भगवान श्री राम ने छत्तीसगढ़ की धरती को अपने पावन चरणों से समृद्धि प्रदान की है। डॉ. रमन सिंह ने पुरी के पीठाधीश्वर महाराज जगदगुरू शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती के राजनांदगांव प्रवास को सौभाग्यशाली क्षण बताते हुए पूरे छत्तीसगढ़ की ओर से स्वामी जी का स्वागत किया। डॉ. रमन सिंह ने कहा कि तीन दिन की इस धर्मसभा में स्वामी जी के द्वारा सहजता और सरलता के साथ वेद, उपनिषदों और विज्ञान का आध्यात्मिक ज्ञान श्रद्धालुओं को मिल सकेगा। उन्होनें कहा कि कठिन विषयों से लेकर वैदिक गणित तक की जानकारी सरल भाषा में स्वामी जी के द्वारा लोगों को मिलेगी, जिसे अपने जीवन में उतारकर आम आदमी भी आध्यात्मिक सुख और शांति का अनुभव कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *