यूपी: कौन होगा नेता विपक्ष, शिवपाल या आजम?

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद समाजवादी पार्टी में एक बार फिर अंदरूनी कलह शुरू होने की अटकलों के बीच पार्टी के लिए माथापच्ची की एक नई वजह पैदा हो गयी है। पार्टी विधानसभा में विपक्ष के नेता के लिये अपने किसी नेता का नाम तय करने को लेकर पसोपेश में है। एसपी चुनाव में 47 सीटें जीतकर सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी बनी है और सदन में नेता विपक्ष उसी का होगा।
एसपी अध्यक्ष अखिलेश यादव को तय करना है कि 403 सदस्यीय विधानसभा में 325 के संख्याबल वाले सत्तापक्ष के सामने विपक्ष का नेता किसे बनाया जाए, जो प्रतिपक्ष की बात को प्रभावशाली तरीके से रख सके। अखिलेश विधान परिषद के सदस्य हैं और उन्होंने विधानसभा का चुनाव भी नहीं लड़ा। उन्होंने एसपी के नवनिर्वाचित विधायकों की गुरुवार को बैठक बुलायी है। माना जा रहा है कि इस बैठक में विधायकों की राय जानने के बाद वह नेता प्रतिपक्ष के संबंध में कोई फैसला लेंगे।हालांकि इस पद के लिए अखिलेश के पास विकल्प बहुत सीमित हैं। इस पद के लिये सबसे प्रमुख और अनुभवी राजनेताओं में उनके राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी शिवपाल सिंह यादव और आजम खान शामिल हैं। हालांकि एक नाम अखिलेश के विश्वासपात्र बलिया के बांसडीह से विधायक रामगोविन्द चौधरी का भी लिया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *