अमेरिका के साथ रणनीतिक साझेदारी के लिए राष्ट्रीय हितों से समझौता नहीं

नई दिल्ली। सरकार ने स्पष्ट किया है कि अमेरिका में हाल के दिनों में भारतीयों पर हुए हमले ‘हेट क्राइम’ हैं न कि कानून-व्यवस्था के सामान्य मामले। इतना ही नहीं, सरकार ने जोर देकर कहा है कि अमेरिका के साथ रणनीतिक साझेदारी के लिए राष्ट्रीय हितों से समझौता नहीं किया जाएगा। सोमवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने राज्यसभा में कहा कि उन्हें भरोसा है कि ट्रंप प्रशासन इन घटनाओं को ट्रेंड का हिस्सा नहीं बनने देगा और इन पर करीबी नजर रखेगा। विदेश मंत्री ने कहा, ‘हम इन वारदातों को कानून-व्यवस्था का मसला नहीं मानते। यह इतना सामान्य नहीं है। हमारी तरफ से यही कहा जा रहा है कि ये घटनाएं 100 प्रतिशत हेट क्राइम हैं।’ उन्होंने कहा कि इन घटनाओं की जांच इसी नजरिए से की जानी चाहिेए। विदेश मंत्री अमेरिका में भारतीयों पर हमले की 3 वारदातों पर सदन में बयान दे रही थीं।
अमेरिका में बसे भारतीयों और भारतीय मूल के लोगों की सुरक्षा को सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता बताते हुए सुषमा स्वराज ने राज्यसभा में आश्वासन दिया कि भारतीयों पर हुए हमलों की घटनाओं को अमेरिकी प्रशासन के सामने अलग-अलग स्तरों पर उठाया गया है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में चल रही जांच पर सरकार नजर बनाए हुए है। विदेश मंत्री ने कहा ‘मैं इस सदन और सदस्यों को आश्वस्त करना चाहूंगी कि विदेशों में बसे भारतीय मूल के लोगों की सुरक्षा और संरक्षा हमारी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *