Daily Archives: May 8, 2017

छॉलीवुड में डॉ. अजय सहाय को बेस्ट एक्टर का सम्मान

—दादा साहेब फालके फिल्म फाउंडेशन अवॉर्ड समारोह
–किसान चैनल के धारावाहिक ‘परिवर्तन’ का कर चुके हैं निर्देशन
रायपुर। छत्तीसगढ़ी फिल्मों में सक्रिय भूमिका अदा करने वाले डॉ. अजय सहाय को एक और सम्मान हासिल हुआ है। मुंबई में आयोजित समारोह में दादा साहेब फिल्म फाउंडेशन अवॉर्ड समारोह में श्री सहाय को छॉलीवुड के ‘बेस्ट एक्टर’ का सम्मान प्रदान किया गया। डॉ. सहाय दूरदर्शन के डीडी किसान चैनल के धारावाहिक परिवर्तन का निर्देशन कर चुके हैं। इसके अलावा वह सौ से अधिक बड़ी व छोटे पर्दों की फिल्मों में विभिन्न किरदार निभा चुके हैं। डॉ. सहाय की एड्स पर आधारित शॉर्ट फिल्म अधूरा प्रेम को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर ख्याति मिल चुकी है। यह अवार्ड उन्हें छत्तीसगढ़ी फिल्मों में उत्कृष्ट अभिनय एवं भोजपुरी सिनेमा में दिये गए विशेष योगदान के लिए दिया गया है। मुंबई के अंधेरी वेस्ट स्थित सेलीब्रेशन क्लब, लोखंडवाला में दादा साहेब फालके फिल्म फाउंडेशन के चेयरमैन अश्फाक खापेकर द्वारा आयोजित भव्य अवार्ड समारोह में हिन्दी, भोजपुरी, मराठी, गुजराती, राजस्थानी और टीवी चैनल के नामी गिरामी हस्तियाँ मौजूद रहीं। इस समारोह में दादा साहेब फालके के परिवार से उनके पौत्र और पौत्र-वधु भी मौजूद थे। यह आयोजन हर साल मुंबई में किया जाता है, जिसमें भारतीय सिनेमा में विशेष योगदान देने के लिए बहुत से कलाकारों का अवार्ड देकर सम्मान किया जाता है।

माओवाद विरोधी अभियान में अफसर पर न हो फैसले की ‘पाबंदी’

–बैठक में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने रखा ‘मिशन सुकमा’ का ब्यौरा
रायपुर/नई दिल्ली। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने सोमवार को रायपुर में ‘मिशन सुकमा’ की रणनीति का ब्योरा दिया। मिशन सुकमा में नक्सलवाद से राज्य के सबसे बुरी तरह प्रभावित जिले को मुक्त करने के लिये हवाई शक्ति, नक्सली नेताओं को निशाना बनाने के साथ ही विकास कार्यों को जारी रखने पर जोर दिया गया है। नक्सलवाद विरोधी उपायों पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता वाली समीक्षा बैठक को संबोधित करते हुये उन्होंने ‘एकीकृत कमान’ के ढांचे में बदलाव की भी मांग की। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जिला-स्तर के अधिकारियों को माओवाद विरोधी अभियान पर अपने स्तर पर फैसला लेने की इजाजत दी जानी चाहिये। रमन सिंह ने कहा, सुकमा माओवादियों के केंद्र में है और नक्सलियों का इस क्षेत्र में प्रभाव है. हमें इस स्पष्ट लक्ष्य के साथ यह मिशन शुरू करना चाहिये कि सुकमा को इस समस्या से छुटकारा दिलायेंगे। उन्होंने नक्सलियों से निपटने के लिये हवाई मदद के इस्तेमाल की कडे़ शब्दों में वकालत की।

नक्सलरोधी अभियान और विकास चलेंगे एकसाथ
नक्सल हिंसा से प्रभावित राज्यों और केन्द्र सरकार ने इस समस्या से स्थायी तौर पर निपटने के लिये विकास और नक्सलरोधी अभियान एकसाथ चलाने की साझा पहल की है। केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में नक्सल प्रभावित दस राज्यों के मुख्यमंत्रियों और केन्द्रीय सुरक्षा एवं खुफिया एजेंसियों की बैठक में समस्या के स्थायी समाधान के रूप में इस फार्मूले को लागू करने पर सहमति बनी। बैठक के बाद केन्द्रीय गृह सचिव राजीव महर्षि ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि विकास योजनाओं और नक्सलरोधी अभियानों की नियमित समीक्षा और आपसी समन्वय के लिये केन्द्र और राज्य सरकारों के स्तर पर एक समिति का गठन किया गया है।
जिला स्तरीय समिति गठन का सुझाव
बैठक में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने नक्सल प्रभावित 35 जिलों में पुलिस अधीक्षक की अगुवाई में जिलास्तरीय समितियों के गठन का सुझाव दिया। यह समिति केन्द्र और राज्य सरकारों द्वारा संबद्ध जिलों में शुरु किये गये विकास कार्यों पर निगरानी रखे।

मंडल रेल प्रबंधक ने यात्रियों को बांटा शीतल पानी

रायपुर। सोमवार को सेक्रो अघ्यक्षा श्रीमति पुश्पलता गौतम एवं मंडल रेल प्रबंधक राहुल गौतम ने रायपुर स्टेशन पर गुजरने वाली गाडियो के यात्रियो को स्वंय अपने हाथो से शीतल पेय जल वितरित किया। इस अवसर पर रायपुर रेल मंडल के अपर मंडल रेल प्रबंधक ए.के. मेश्राम सहित सभी अधिकारीयो सहित सेक्रो की सभी पदाधिकारी भी उपस्थित रही। भीषण गर्मी में पानी की जरूरत को महसुस करते हुए यात्रियो के पीने के लिए निशुल्क ठंडे पेयजल की सुगमता से उपलब्धता के लिए पहल मंडल रेल प्रबंधक एवं सेक्रो अघ्यक्षा ने की है। जिसके लिए सेक्रो की सदस्याओ के साथ साथ स्काउट और गाईड के बच्चो का सहयोग लिया जा रहा है। विशेषकर जनरल और स्लीपर कोचो में पेयजल वितरित किया जा रहा है। यात्रियो ने सेक्रो और अधिकारियो की इस पहल की सराहना की। मंडल रेल प्रबंधक ने रायपुर स्टेशन पर पानी के महत्व पर चर्चा करते हुए जल बचाओ के लिए यात्रियो को जागरूक किया।

जनता का ध्यान भटकाने के लिए विवाद खड़ा किया जा रहा : भूपेश बघेल


रायपुर। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने एक बार फिर दोहराया है कि वे अपनी हर संपत्ति की किसी भी तरह की जांच के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा है कि यह अधिकार सरकार के पास है कि वो जिस तरह से भी चाहे जांच करवा ले लेकिन उनके परिजनों को परेशान करने की राजनीति न करे। आज कांग्रेस भवन में एक पत्रकारवार्ता में भूपेश बघेल ने कहा कि राज्य के गठन के बाद इन 17 सालों में कई बार उनकी जमीनें नाप ली गईं, उनके मकान के कागजातों की जांच कर ली गई लेकिन कुछ नहीं मिला, आज वे मुख्यमंत्री रमन सिंह से अनुरोध भी कर रहे हैं और उन्हें खुली चुनौती भी दे रहे हैं कि वे जिस तरह से भी चाहें इसकी जांच करवा ले इससे कम से कम उनके अभिन्न मित्र को संतुष्टि हो जाएगी और वे जनता के मुद्दों पर कुछ बात कर पाएंगे। श्री बघेल ने कहा कि सवाल उनके मकान और जमीन का है ही नहीं दरअसल यह मुख्यमंत्री रमन सिंह और उनके अभिन्न मित्र पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की राजनीतिक झुंझलाहट का है।प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, मैं पूछ रहा हूं कि अजीत जोगी की जाती कौन सी है और वे फर्जी प्रमाण पत्र से आदिवासी क्यों बने हुए हैं? मैं पूछ रहा हूं कि अंतागढ़ में कांग्रेस प्रत्याशी की खरीद फरोख्त का आपराधिक खेल उन्होंने क्यों खेला? मैं पूछ रहा हूं कि उनके बेटे के तीन जन्म प्रमाण पत्र में से असली कौन सा है? जाहिर है कि इन सब सवालों के जवाब वे दे नहीं सकते. तो वे मुझ पर आरोप लगाकर लोगों का ध्यान भटकाना चाहते हैं। श्री बघेल ने कहा, अजीत जोगी और उनकी पार्टी की मजबूरी है कि वे बार बार मेरा नाम लें और झूठे आरोप लगाते रहें क्योंकि इसी से वे प्रासंगिक बने रह सकते हैं. वरना भाजपा की गोद में बैठे छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के पास अपना कोई मुद्दा तो है ही नहीं वे मुझसे लड़कर रमन सिंह की सहायता करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि जहां तक मुख्यमंत्री रमन सिंह का सवाल है तो वे कांग्रेस के लगातार आंदोलन से झुंझलाए हुए हैं। पहले शराब बेचकर 1500 करोड़ रुपए के कमीशन का मामला था, लेकिन अब तो उन्होंने खुद स्वीकार कर लिया है कि उनकी पूरी सरकार पिछले साढ़े 13 साल से कमीशनखोरी में लगी हुई है और वे एक साल कमीशन न खाने की अपील कर रहे हैं। श्री बघेल ने कहा कि रमन सिंह इतनी राजनीति तो समझते हैं कि प्रदेश भर में 10000 नुक्कड़ सभाएं होंगी तो इसका मतलब क्या है और इसका जनता के बीच क्या संदेश जाएगा, वे चाहते हैं कि मुझे लेकर वे अजीत जोगी के जरिए विवाद खड़ा कर दें तो कांग्रेस का आंदोलन धीमा पड़ जाएगा। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, हम न प्रियदर्शिनी बैंक घोटाले में रमन सिंह और उनके मंत्रियों को पहुंचे करोड़ों रुपयों का मामला छोड़ेंगे, न 36000 करोड़ के नान घोटाले के बारे में सवाल पूछना बंद करेंगे और न ही यह पूछना बंद करेंगे कि वह अभिषेक सिंह कौन है, जिसके नाम पर मुख्यमंत्री के पते पर विदेश में खाता खुला हुआ है? अभी तो हमने रमन सिंह जी की निजी संपत्ति के ब्यौरे देने शुरु नहीं किए हैं। वो इसलिए कि हम अभी अपना ध्यान जनता के मुद्दों पर कायम रखना चाहते हैं। श्री बघेल ने कहा कि अब कांग्रेस प्रदेश में 10000 की जगह 12000 नुक्कड़ सभाएं करेगी और भाजपा के एक एक कार्यकर्ता को बेनकाब करेगी जिसने पिछले साढ़े 13 सालों में कमीशनखोरी करके पैसा कमाया है। हम एक एक पंचायत में संपत्ति का ब्यौरा मांगेंगे और शिकायतें करेंगे। उन्होंने कहा, अब कांग्रेस को रोकना संभव नहीं, रमन सिंह और उनके मित्र चाहे जो कर लें।

नपा गौरेला के अध्यक्ष पति पर गुंडागर्दी का आरोप

–भाजपा नेताओं ने सीएम के नाम सौंपा ज्ञापन
बिलासपुर। नगर पंचायत गौरेला के अध्यक्ष के प्रति जुबेर अहमद पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने गुंडागर्दी करने का आरो लगाया है। भाजपा की सेमरा गौरेला मंडल के परवेज अहमद की अगुवाई में पार्टी कार्यकर्ताओं और नागरिकों ने अनुविभागीय अधिकारी पेंड्रा रोड को मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने नाम संबोधित ज्ञापन सौंपा और अध्यक्ष पति के विरुद्ध कार्रवाई किये जाने की मांग की।

संगठन की नब्ज टटोलने पहुंचे तोमर, विजयवर्गीय

रायपुर। प्रवास पर रायपुर पहुंचे भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय एवं केंद्रीय पंचायत एवं ग्रामीण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर शाम को प्रदेश भाजपा कार्यालय पहुंचे। उनसे भेट करने प्रदेश के कृषि एवं सिंचाई मंत्री बृजमोहन अग्रवाल भी कार्यालय पहुंचे और उन्होंने पुष्प गुच्छ भेंट कर उनका अभिनंदन किया। इस अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री सौदान सिंह एवं पंचायत मंत्री अजय चंद्राकर भी उपस्थित थे।

योगेश को मिला दादा साहेब फाल्के बेस्ट एक्टर अवार्ड

रायपुर । मुंबई के सेलिब्रेशन स्पोर्ट्स क्लब में आयोजित रंगारंग कार्यक्रम के दौरान छत्तीसगढ़ी फिल्म कलाकार योगेश अग्रवाल को दादा साहेब फाल्के फिल्म फाउंडेशन द्वारा बेस्ट एक्टर का अवार्ड के प्रदान किया गया। छत्तीसगढ़ प्रदेश के लिए यह गौरव की बात है कि राज्य के किसी फिल्मी कलाकार को पहली बार इतने बड़े सम्मान से नवाजा गया है। उन्हें यह अवार्ड विशेष रूप से महिला सशक्तिकरण पर बनी फिल्म “होप”में उत्कृष्ठ अभिनय के लिए प्रदान किया गया। इस अवार्ड के जूरी मैम्बर सरोज खान,स्माइल दरबार, अनूप जलोटा, उदित नारायण,अनीश बजमी, राजकुमार पांडे, सुरेश बेरी ने योगेश के अभिनय को सराहते हुए उन्हें नॉमिनेट किया था। उन्होंने छत्तीसगढ़ी फिल्म जगत में योगेश के अहम योगदान का भी विशेष उल्लेख किया तथा उनके अभिनय की भी सराहना की है। योगेश को यह सम्मान मिलने से छत्तीसगढ़ी फिल्मी दुनियां में हर्ष व्याप्त है। गौरतलब है कि योगेश अग्रवाल हिंदी, छत्तीसगढ़ी और भोजपुरी की 35 से अधिक फिल्मों में काम कर चुके है। अभिनय के साथ-साथ वे फिल्मों के निर्माता व निर्देशक भी है। वे सुपरस्टार अमिताभ बच्चन के साथ भी फिल्म कर चुके है। बहुमुखी प्रतिभा के धनी योगेश गायन भी करते है। कई छत्तीसगढ़ी व हिंदी फिल्मों में उन्होंने गीत गाया है। योगेश अग्रवाल अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी है और वे महाराजा अग्रसेन जी पर 300 एपिसोड के सीरियल का निर्माण भी कर रहे है।