Daily Archives: May 14, 2017

एस.ई.सी.एल ने कमाये 595 करोड़

रायगढ / एस.ई.सी. एल ने पिछले साल से अधिक का लक्ष्य प्राप्त कर 595 करोड़ की आय अर्जित कि हैं ।एस ई सी एल की सभी कोल माइंस ने इस बार रिकार्ड उत्पादन्न प्राप्त किया हैं जो पिछले साल से 27 प्रतिशत अधिक हैं इसी तरह इस साल भी 117.5 एल.टी.ई की बनिस्बत 132.72 एल.टी.ई कोयले का खनन किया गया जो टारगेट से 13 प्रतिशत अधिक हें ।एस ई सी एल ने प्रति दिन 94994 टी ई व महिने में 22.25 एल टी ई का उत्पाद प्राप्त किया हैं ।एस ई सी एल के अधिकारियों व कर्मचारियों ने सरकार व्दारा दिये गये लक्ष्य की प्राप्ति के लिये लग्न व मेहनत से काम किया जिसका अच्छा परिणाम मिला ।जिसका श्रेय पूरे विभाग के साथ साथ जी.एम.को जाता हें जिनके कुशल मार्गदर्शन व प्रेरणा ने स्टाप को उर्जा प्रदान की और सभी उपलब्धियां प्राप्त की जिसके लिये एस ई सी.एल बधाई के पात्र हैं । मई दिवस के अवसर पर कार्यालय व्दारा 1मई को श्रम दिवस मनाया गया जिसमें ध्वजारोहन के बाद कारपोरेट गीत व महाप्रबंधक आर के अमर व्दारा सम्बोधन किया गया व मिठाईयां बाटी गयी।

मिसेज महापौर ने जरूरतमंदों को बांटे वस्त्र

रायपुर। वर्तमान समय में जो कपड़े हम नहीं पहनते वह अलमारियों में रखे-रखे समय के साथ-साथ अनुपयोगी हो जाते हैं। ऐसे में हम उन कपड़ो को क्यों न जरूरतमंदो को बॉट दें। इसी भावना को लेकर सामाजिक संस्था सांस्कृतिक विवेकानंद उत्कर्ष परिषद द्वारा ग्राम कचना में एक कार्यक्रम रखा गया जहां सामाजिक सरोकार से जुड़े लोंगों ने अपने अनुपयोगी वस्त्रों को जरूरत मदों को दिया जिसका उपस्थित ग्रामवासियों ने लाभ उठाया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि समाजसेविका व रायपुर की प्रथम महिला श्रीमती दीप्ति दुबे थी। श्रीमती दुबे ने कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि आज जहां कुछ लोगों के पास भोजन-वस्त्र की कमी नही हैं वहीं दूसरी ओर एक बड़ा तबका आज भी इन चीजों के लिये जूझ रहा हैं। ऐसे में हम सबका दायित्व है कि हम ऐसे कपड़े जो कटे फटे न हो और जिसे हम नहीं पहनते उसे जरूरत मंदो को उनकी इच्छा के अनुसार दे तो इससे दोनो को खुशी मिलेगी। इस दौरान दिव्यांग पुनीत साहू ने अपने लिए ट्राइसायकिल की मांग किया जिसे दीप्ति दुबे ने अपने ओर से देने कि बात कही। उपाध्यक्ष श्रीमती विनीता पांडे ने संस्था का संक्षिप्त उद्द्ेश्य बताया। कार्यक्रम में लाभूराम धीवर, देव कुमार साहू, विनिता पांडे, बेमेतरा के जिलाध्यक्ष सौरभ तिवारी जी, शैलेन्द्र दुबे, डिम्पी शुक्ला, नूतन दीवान, सहित सैकड़ो की संख्या में ग्राम वासी व संस्था के सदस्य उपस्थित थें।

युवा जनता कांग्रेस ने मदर्स डे पर किया बुजुर्गों का सम्मान

रायपुर। मातृ दिवस के अवसर पर युवा जनता कांग्रेस छग के प्रदेश अध्यक्ष विनोद तिवारी अपने साथियों के साथ संजीवनी वृद्धा आश्रम कोटा पहुँचे। यहां पहुँच कर सभी वृद्ध जानो से मिले और उनका हाल जाना। सभी से आशीर्वाद प्राप्त किया। उन्होंने बुजुर्गों के साथ वक़्त बिताया । उन्हें मिठाइयाँ व फल आदि वितरित किया और उन्हें ये विश्वास दिलाया की जब भी आपको हमारी जरूरत होगी हम आपके बेटे बन आपके साथ खड़े होंगे। कार्यक्रम में कमलेश मिश्रा, राम चक्रधारी, सतीश वर्मा, विक्की वाघवानी, भूपेन्द्र साहू, चीकू तिवारी, शशांक शर्मा, राहुल, श्यामू आदि उपस्थित थे।

छत्तीसगढ़ में सीआईएसएफ ने एंटी नक्सल अभियान से किया किनारा

रायपुर। माओवाद प्रभावित क्षेत्रों में एंटी नक्सल अभियान में सबसे बड़ी बाधा स्थानीय पुलिस बल की कमी है। छत्तीसगढ़ में केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल यानि सीआईएसएफ ने स्थानीय पुलिस के अग्रिम दस्ते के अभाव को देखते हुये नक्सलरोधी अभियानों में हिस्सा लेने से मना कर दिया है। इसके मद्देनजर गृह मंत्रालय की ओर से सभी संबद्ध राज्य सरकारों को जिला स्तर पर पुलिसकर्मियों की कमी को दूर करने को कहा गया है। देश में नक्सल हिंसा से सबसे अधिक प्रभावित 35 जिलों में स्थानीय पुलिस बल की भारी कमी है। केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने इस पर चिंता जाहिर की है। नक्सलरोधी अभियान की रणनीति के तहत सुरक्षादस्ते में राज्य पुलिस की कम से कम एक तिहाई हिस्सेदारी सुनिश्चित करना प्राथमिक शर्त है। गृह मंत्रालय द्वारा राज्यों को भेजे नोट के मुताबिक दुर्गम इलाकों में राज्य पुलिस के दस्ते को ही स्थानीय परिस्थितियों से अवगत होने के कारण अग्रिम मोर्चे पर मुस्तैद रखने की रणनीति को लागू करने की बात कही गयी है। इसके लिये राज्य सरकारों से पुलिसकर्मियों की कमी को दूर करने के लिये तत्काल भर्ती करने को कहा गया है जिससे केंद्रीय सुरक्षा बलों से इन्हें जरुरी प्रशिक्षण देकर अभियानों में लगाया जा सके।
अभियान में लागू होगा सामंजस्य का फार्म्यूला
केंद्रीय गृह मंत्रालय ने नक्सल प्रभावित दस राज्यों में नक्सलरोधी अभियानों की रणनीति के तहत सड़क, संचार और सूचनाओं के आदान प्रदान में सामंजस्य के फार्मूले को लागू करना शुरू कर दिया है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में पिछले सप्ताह नक्सल प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक में नक्सलरोधी अभियानों की नयी रणनीति को लागू करने के लिये राज्यों को भेजे गये आंतरिक नोट में संसाधनों के सामंजस्य पूर्ण इस्तेमाल पर जोर दिया गया है।
समिति ने कार्ययोजना तैयार की
सूत्रों के अनुसार बैठक में भविष्य के लिये नक्सलरोधी अभियानों की निगरानी के लिये केंद्रीय गृह सचिव की अध्यक्षता वाली नवगठित केंद्र राज्य समिति ने संशोधित रणनीति को लागू करने की कार्ययोजना बना ली है। इसमें स्थानीय पुलिस और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल के बीच संचार और सूचनाओं के आदान प्रदान में सामंजस्य कायम करने के लिये पुलिसकर्मियों की कमी को दूर करने को कहा गया है।

11 हजार करोड़ खर्च कर सड़कें बनावाएगा केंद्र
केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ के सुकमा समेत देश के 44 नक्सल प्रभावित जिलों में सड़क संपर्क मुहैया कराने के लिए 11 हजार करोड़ रुपये की लागत से जल्द काम शुरू करेगी। सुकमा में पिछले दिनों बड़ा नक्सली हमला हुआ था। अधिकारियों ने बताया कि परियोजना की कुल लागत का पांच प्रतिशत यानी 550 करोड़ रुपये रणनीतिक स्थानों पर सुरक्षा बलों की तैनाती समेत प्रशासनिक खर्च के लिए अलग रखे जाएंगे। परियोजना के तहत 5411 किलोमीटर सड़कों और 126 पुलों का निर्माण किया जाएगा या उन्हें सुधारा जाएगा। इन जिलों में 11,724.53 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से काम कराया जाएगा।

अफसरों की लापरवाही पर ‘एक्शन’ में आए सीएम

—सीईओ सस्पेंड, तीन दिन में मिलेगी मजदूरी
–आम के पेड़ की छाया में लगी मुख्यमंत्री की चौपाल
रायपुर। अफसरों की लापरवाही पर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह रविवार को ऐक्शन में नजर आये। आरंग विकासखंड के केशला गांव में आकस्मिक भ्रमण के दौरान वहां मनरेगा का मजदूरी भुगतान नहीं होने की शिकायत मिलने पर जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी नेहरूल माहेश्वरी को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री के निर्देश पर त्वरित अमल करते हुए एक घंटे के भीतर मंत्रालय से निलंबन आदेश जारी कर दिया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि विकास कार्यों में लापरवाही बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जाएगी। गड़बड़ी करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मुख्यमंत्री ने तीन दिन के भीतर मजदूरों को उनकी मजदूरी का भुगतान करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। मुख्यमंत्री ने ग्राम केशला में आम के पेड़ की छांव में ग्रामीणों के बीच चौपाल लगाई। मुख्यमंत्री के गांव आने की खबर से उत्साहित बड़ी संख्या में ग्रामीण चौपाल पहुंचे। मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों के साथ गांव की महिलाओं और बच्चों से बातचीत की। उन्होंने ग्राम वासियों से शौचालय निर्माण और शौचालय के उपयोग की जानकारी ली और ग्राम पंचायत केसला को 06 महीने के भीतर खुले में शौच मुक्त कराने का संकल्प दिलाया।

पति की अंत्येष्टि के लिए बेटा गिरवी, मां बेहाल

आगरा। आगरा में एक हृदयविदारक घटना सामने आई है। ताज नगरी में नौकरी की तलाश में दीमापुर से आई एक महिला अपने दो बच्चों को नाली का पानी पीते हुए मिली। नागालैंड में अपने गिरवी रखे बच्चे को छुड़ाने के लिए वह कुछ पैसे बचाना चाह रही है इसीलिए उसे नाली का पानी पीने को मजबूर होना पड़ रहा है। महिला की पहचान 20 वर्षीय रीता के रूप में हुई है। वह पांच दिन पहले ही अपने देवर के साथ मजदूरी तलाश में आगरा आई थी। रीता को शाह मार्केट में शनिवार की शाम अपने दो बच्चों (3 वर्षीय नंदिनी और डेढ़ साल के बेटे अरुण) के साथ नाली से पानी पीते हुए देखा गया। इसके बाद एक स्थानीय दुकानदार ने उसे पानी का पाउच दिया। उसके पास एक भी रुपया नहीं था। बीते पांच दिनों से वह काम तलाश रही है लेकिन सफल नहीं हुई। जिस बाजार में उसे नाली से पानी पीते हुए देखा गया वहां पर एक भी सार्वजनिक प्याऊ नहीं था। उसकी भाषा को समझने में असमर्थ रहने पर स्थानीय लोगों ने मानवाधिकार कार्यकर्ता नरेश पारासर को रीता के बारे में सूचना दी। उसकी आपबीती सुनने के बाद नरेश ने नागालैंड पुलिस से मदद के लिए संपर्क किया।नरेश ने बातचीत में बताया, ‘बीते चार दिनों से महिला कठिन परिस्थितियों में रह रही थी। अपने बच्चों की भूख मिटाने के लिए वह कचरे में फेके गए बचे हुए खाने को बीनकर उन्हें खिला रही थी और नाली का पानी पिला रही थी। अपने बच्चों की प्यास बुझाने के लिए उसने एक दुकान से पानी की बोतल उठा ली थी जिसके बाद उस दुकानदार ने उसकी पिटाई भी कर दी थी। उसने पुलिस से संपर्क करने की भी कोशिश की थी लेकिन उसकी सुनी नहीं गई।’नरेश ने बाद में इमर्जेंसी महिला हेल्पलाइन ‘आशा ज्योति केंद्र लखनऊ’ में फोन किया, जिसके बाद आगरा के एक काउंसलर को महिला के पास भेजा गया। नरेश ने उस काउंसलर के साथ मिलकर रीता से बातचीत की। उन्होंने बताया कि महिला से बातचीत करते हुए पता चला कि सात माह पहले उसके पति मुकेश की बीमारी के चलते मौत हो गई। अपने पति का अंतिम संस्कार करने के लिए उसने एक व्यक्ति से अपने सात साल के बेटे के बदले में 2000 रुपये उधार लिए। अपने बेटे को छुड़ा पाने के लिए पैसा न जुटा पाने पर रीता अपने देवर पप्पू के साथ आगरा आ गई। पप्पू उसे अकेला छोड़कर भाग गया। नागालैंड में रीता चाय के एक बाग में काम कर रही थी और 40 रुपये की दिहाड़ी कमा रही थी। नागालैंड पुलिस ने रीता के दीमापुर का निवासी होने की पुष्टि की है। दीमापुर के एसीपी अकुम लाम ने कहा, ‘हम ऐक्टिविस्ट से लगातार संपर्क में बने हुए हैं। उन्होंने हमें बताया है कि रीता को ब्रह्मपुत्र मेल से डिब्रूगढ़ के लिए बैठ दिया गया है। हम जीआरपी के साथ उसे दीमापुर लाने का प्रबंध कर रहे हैं।’

इमैन्युअल मैक्रों ने ली फ्रांस के राष्ट्रपति पद की शपथ

पैरिस। फ्रांस में मध्यमार्गी उदारवादी इमैनुएल मैक्रों ने रविवार को देश के 25वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली। वह देश के सबसे युवा राष्ट्रपति हैं। बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, मैक्रों ने राष्ट्रपति का पदभार संभालने के बाद अपने पहले वक्तव्य में नवचेतना की बात की। उन्होंने कहा, ‘फ्रांस की ताकत समाप्त नहीं हो रही है, बल्कि हम एक बड़ी नवचेतना की कगार पर हैं। उन्होंने कहा कि आज दुनिया और यूरोप को फ्रांस की पहले से कहीं अधिक आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ समय में फ्रांस का आत्मविश्वास खो गया था, पर उनकी जीत के बाद यह लौट आया है। यहां लोग एक बार फिर खुद में यकीन करेंगे। मैक्रों ने सात मई को हुए दूसरे व अंतिम दौर के चुनाव में नैशनल फ्रंट की धुर दक्षिणपंथी उम्मीदवार मेरी ले पेन को हराया था। उदार मध्यमार्गी मैक्रों व्यापार समर्थक और यूरोपीय संघ के समर्थक हैं। मैक्रों का अजेंडा था कि वह 5000 बॉर्डर गार्ड्स की फोर्स बनाएंगे। फ्रांसीसी राष्ट्रीयता हासिल करने के लिए फ्रैंच भाषा जाननी जरूरी होगी। इसके अलावा फ्रांस में धर्मनिरपेक्ष मूल्यों का विस्तार भी उनके अजेंडे में शामिल था। उधर मैरीन ल पेन ने अपने अजेंडे में गैरकानूनी प्रवासन पर रोक, सीमा रेखा कंट्रोल, इस्लामी कट्टरवादियों के खिलाफ कार्रवाई और कट्टरवादी मस्जिदों पर कार्रवाई शामिल थी।

डॉ. रमन ने भूपेश बघेल को मिलने का समय दिया

रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भूपेश बघेल को 16 मई को यहां अपने निवास कार्यालय में शाम 6.30 बजे मुलाकात का समय दिया है। इस आशय की सूचना मुख्यमंत्री के निज सचिव ओ.पी. गुप्ता ने आज पत्र द्वारा श्री बघेल के निज सचिव को भेजी है। उन्होंने पत्र में लिखा है कि मुख्यमंत्री जी 14 और 15 मई को लोक सुराज अभियान के तहत रायगढ़ और बालोद जिले के प्रवास पर हैं। अत: 16 मई को यहां उनके निवास कार्यालय में शाम 6.30 बजे मुलाकात का समय निर्धारित किया गया है। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री से मिलने का समय देने के लिए श्री बघेल की ओर से उनके निज सचिव द्वारा पत्र लिखा गया था। भूपेश बघेल ने एक दिन पहले धरने पर बैठे किसानों को लेकर मुख्यमंत्री से मिलने की इच्छा जाहिर की थी।

पड़ोसी देशों के साथ युद्ध नहीं होने दूंगाः जरदारी

इस्लामाबाद । पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने रविवार को कहा कि वह पाकिस्तान के पड़ोसी देशों के साथ बेहतर बनाए रखने के लिए डटे रहेंगे। उन्होंने पड़ोसी देशों के साथ अनबन को लेकर नवाज शरीफ के नेतृत्व वाली पीएमएल-एन सरकार की आलोचना की। जरदारी ने कहा कि वह मानते हैं कि यह अमेरिका की विदेश नीति है। पेशावर में एक रैली को संबोधित करते हुए पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि जब वह सत्ता में थे, भारत और अफगानिस्तान के साथ संबंध मधुर थे और शांति का माहौल था। जरदारी ने कहा, ‘हमें अपने पड़ोसी देशों के बीच दोस्ताना संबंध बनाए रखना चाहिए। जब युद्ध की बात आती है तो प्रधानमंत्री नवाज की अमेरिकियों के प्रति यही सोच रहती है।’ उन्होंने कहा, ‘हम यह युद्ध नहीं होने देंगे।’ वहीं, जरदारी ने घरेलू मोर्चे पर सरकार को घेरते हुए कहा कि खैबर पख्तून ख्वाह में हिंसा बढ़ रही है, लेकिन जिसकी सरकार वहां है उन्हें इसकी खबर नहीं है। उन्होंने कहा, ‘उन्हें नहीं पता कि खैबर पख्तून ख्वाह में कितने भाई-बहन और बच्चे बेघर हुए हैं। उनकी राष्ट्रीय पहचान छीनी जा रही है और उन्हें जेल में रखा जा रहा है।’