Daily Archives: June 14, 2017

रमन सरकार सुनील अग्रवाल पर मेहरबान क्यों

रायपुर । छत्तीसगढ़ में संसाधनों का दुरुपयोग किस कदर किया जा रहा है उसकी बानगी जल संसाधन विभाग में साफ देख लीजिए । इस विभाग के ठेके पर अकेले सुनील अग्रवाल का दबदबा कायम है । मार्च 2017 में निर्माण कार्य के भुगतान के लिए विभाग द्वारा काटे गये चेक में अस्सी फीसदी चेक सुनील अग्रवाल के नाम पर काटे गये हैं । ऐसा हो भी क्यों नहीं क्योंकि सुनील अग्रवाल खुद को विभाग के मंत्री का रिश्तेदार बताता है और राजधानी रायपुर में आलीशान महल में रहता है ।जल संसाधन विभाग के ठेके सुनील अग्रवाल को ही मिलते हैं , इसके पीछे भ्रष्टाचार की लंबी कहानी है ।अगली कड़ी में इस कहानी को क्रमशः प्रस्तुत किया जाएगा ताकि अफसरों और काले कारनामे करने वाले ठेकेदार की मिलीभगत का खुलासा हो सके ।

रमन सरकार सुनील अग्रवाल पर मेहरबान क्यों ?

रायपुर । छत्तीसगढ़ में संसाधनों का दुरुपयोग किस कदर किया जा रहा है उसकी बानगी जल संसाधन विभाग में साफ देख लीजिए । इस विभाग के ठेके पर अकेले सुनील अग्रवाल का दबदबा कायम है । मार्च 2017 में निर्माण कार्य के भुगतान के लिए विभाग द्वारा काटे गये चेक में अस्सी फीसदी चेक सुनील अग्रवाल के नाम पर काटे गये हैं । ऐसा हो भी क्यों नहीं क्योंकि सुनील अग्रवाल खुद को विभाग के मंत्री का रिश्तेदार बताता है और राजधानी रायपुर में आलीशान महल में रहता है ।जल संसाधन विभाग के ठेके सुनील अग्रवाल को ही मिलते हैं , इसके पीछे भ्रष्टाचार की लंबी कहानी है ।अगली कड़ी में इस कहानी को क्रमशः प्रस्तुत किया जाएगा ताकि अफसरों और काले कारनामे करने वाले ठेकेदार की मिलीभगत का खुलासा हो सके ।

खुशियों से भरी कार्निवाल है तफरीह : शशिमोहन

Bhilai. आज के हेल्थ कार्निवाल भिलाई संडे तफरीह के मुख्यातिथि के रूप में पहुँचे दुर्ग जिले के नए एडिशनल एस पी  शशिमोहन सिंह ने आज हेल्थ कार्निवाल का लुफ्त उठाया । खेल एवं डांस का लुफ्त उठाते युवा वर्ग को देख हर्षित हुवे शशिमोहन ने भिलाई संडे तफरीह के इस भव्य लोकप्रिय आयोजन के लिए नगर निगम भिलाई को बधाई दी वहीँ उन्होंने अपने उद्बोधन में अपने बचपन को याद करते कहा कि आपकी उम्र में मैं भी कभी भिलाई की इन्ही गलियों में घुमा हूँ इस सिविक सेंटर प्रांगण से मेरा भी नाता रहा है और यहाँ से ही मैं आज एक एडिशनल एस पी के रूप में पदस्थ हुवा हूँ । हाँ उस वक्त मनोरंजन के लिए तफरीह नहीं थी परंतु मैंने भी अपनी युवा अवस्था में खूब मस्ती किए हैं। भिलाई के युवाओं को सन्देश देते हुवे उन्होंने कहा कि पुलिस आपकी सहायता के लिए है, पुलिस की उपस्थिति आपको भयभीत नहीं बल्कि सुरक्षित करती है, हम आपके रक्षक है, 95% आम नागरिकों का पुलिस से कोई सम्बन्ध नहीं होता और बचे 5% जो असामाजिक तत्व है उन्हें पुलिस से डरने और सचेत रहने की भी आवश्यकता है उनके लिए गब्बर हम ही हैं। युवाओं के बीच पहुँच जहाँ शशिमोहन सिंह एक मित्र के रूप में लोगों से मिलते-जुलते दिखाई पड़े सभी इवेंट का लुफ्त उठाते हुवे अपनी उपस्थिति से शहर के नए अडिशनल एस पी ने सभी का दिल जीता।

रक्त दान को बढ़ावा देने लगाया गया विशेष कैंप

आज के आयोजन में विशेष रूप से रक्त दान को बढ़ावा देने कैंप लगाया गया जिसमें तफरीह में पहुँचे नागरिकों द्वारा स्वेच्छा से अपना संपर्क एवं ब्लड ग्रुप का रजिस्ट्रेशन करवाया जिससे भविष्य में बनने जा रही तफरीह ब्लड डोनर ग्रुप के सदस्य के रूप में रक्त दान जैसे मानवता के कार्य में अपना योगदान दे सकें और जरुरत मंदों के लिए खड़े हो सके, तफरीह ब्लड डोनर ग्रुप बनाए जाने हेतु इस सप्ताह छत्तीसगढ़ ब्लड डोनर फाउंडेशन के अध्यक्ष  विवेक कुमार साहू, उपाध्यक्ष विकास जयसवाल, महासचिव कीर्ति कुमार परमानन्द, विक्रांत दानिकर, प्रेम साहू एवं हरजिंदर सिंह को विशेषरुप से आमंत्रित किया गया था जिनके सानिध्य में ब्लड डोनेशन को लेकर लोगों में जागरूकता फैलाने विशेष अभियान चलाया गया और उपस्थित नागरिकों का ब्लड ग्रुप एवं संपर्क सूत्र रजिस्टर बनायीं गयी जिसे भविष्य में प्रकाशित कर भिलाई के नागरिकों के सुविधा हेतु सार्वजनिक वितरण किया जावेगा।कार्यक्रम के अंत में  शशिमोहन सिंह, लक्ष्मीपति राजू,  नीरज पाल जी के करकमलों से प्रशस्तिपत्र प्रदान कर छत्तीसगढ़ ब्लड डोनर फाउंडेशन के समस्त पदाधिकारियों का सम्मान किया गया।

स्वच्छता को लेकर चलाया गया विशेष अभियान

भिलाई नगर निगम के जनसंपर्क विभाग के अधिकारी श्री अजय शुक्ला द्वारा गीले-सूखे कचरे को अलग-अलग रखे जाने और नीले-हरे डस्टबिन का प्रयोग करने छोटे-छोटे बच्चों के सहयोग से जागरूकता लाने जन-जन को सन्देश दिया जिससे स्वच्छ भिलाई-सुन्दर भिलाई के इस मिशन को गति मिले।

डॉ प्रेमलाल पटेल ने सिखाया योगा

डाँ प्रेमलाल पटेल के निर्देशन मे आरोग्यवेदा क्लिनीक भिलाई व महावीर मेडीकल कालेज योग व प्राकृतिक चिकित्सा नगपुरा के स्टाफ डाँ मेघनाथ वर्मा (प्राचार्य) व डाँ सँस्कृति सिह (योग व प्राकृतिक चिकित्सक) एवं स्टूडेट द्वारा लोगो का चिकित्सकीय हेल्थ परीक्षण परामर्श किया गया व साथ ही योग अभ्यास के थेरेपी के साथ विभिन्न प्रकार के पिरामिड आसनो का प्रदर्शन किया गया।और इसी प्रकार तफरीह के आयोजन में योगदान दे रहे मार्शल आर्ट्स कोच  गिरी राव, आर्ट ऑफ लिविंग राजेश साहू, निःशुल्क हेल्थ चेक अप हेतु अपोलो हॉस्पिटल  शशि गुरनानी एवं टीम, रुंगटा डेंटल, फिटनेस जोन जिम, अग्रसेन ग्रुप प्ले स्कुल, हर्बल लाइफ, तफरीह का हुनर आशीष यादव, सुधा टाटा, श्रीमती शोनाली चक्रवर्ती एवं स्वयंसिद्धा ग्रुप, एरोबिक्स-जुम्बा के अंकित गाड़े, आशु सिंह, अमन सोनकर, तरीका सोनकर, अपराजिता पापोशा, अंकित मसीह,मीनाक्षी गौतम, कुणाल देशमुख, योगिता जंघेल, प्रीतम सिंह, ईवोन, दीपक और आदर्श देवांगन एंकर पार्थ शर्मा, म्यूजिकल इंस्ट्रमेंट आर्टिस्ट श्री दीपक ताहिलरमानी, रोलर स्केटिंग कोच श्री बलजीत सिंह, छाया प्रजापति (हर्बल शेक), अविशकॉम, जिम, स्नैक एन्ड लेडर्स, टग ऑफ़ वॉर, बैडमिंटन, वॉलीबाल, डार्ट टारगेट, बॉल इन बकेट, रोप जम्प जैसे गेम्स भी नागरिकों के लिए उपलब्ध रहे.

किसान हत्या के विरोध में युवा जनता कांग्रेस ने निकली मशाल रैली

रायपुर। युवा जनता काँग्रेस छतीसगढ़ जे के प्रदेश अध्यक्ष विनोद तिवारी ने बताया कि मध्यप्रदेश के मंदसौर मे कर्ज माफी की माँग को लेकर आन्दोलन कर रहे किसानो पर भाजपा सरकार के इशारे पर जिस तरह आन्दोलन को कुचलने के लिए किसानो के सीने पे गोलिया चलवा उनकी हत्या करवाई गई उसके विरोध में छत्तीसगढ़ मे बुधवार को प्रदेश भर के सभी जिला मुख्यालयो मे युवा जनता काँग्रेस छतीसगढ़ जे के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं द्वारा काले कपड़े पहन कर हाँथों में मशाल लेकर रैली निकाली गई तथा मध्यप्रदेश की हत्यारी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया गया। विनोद तिवारी ने कहा कि पूरे देश मे किसान खराब फसल तथा कर्जे से पैर से सर तक डूबे हुए है ऐसे मे मध्यप्रदेश के मंदसौर मे कर्ज माफी की माँग को लेकर जब निहत्ते किसान आन्दोलन कर रहे थे तो उनके आन्दोलन से भयभीत होकर प्रदेश की भाजपा सरकार के द्वारा आन्दोलन को कुचलने के लिए गोलिया बरसाई गई और कई किसानो की हत्या कर दी गई। रैली में मुख्य रूप से कमलेश मिश्रा, राम चक्रधारी,पंकज दीवान,संदीप यदु,दीपक जयसवाल, समीर चौहान,रवि दलाई,देवराज भाट,विकी रतरे,अपरजीत तिवारी,संजय तिवारी,बिज्जु बनजरे,अक्कु,अंकित अग्रवाल,सतीश वर्मा,कारण पाण्डेय,विकी वध्वनि ओंकार धेंगरे, शुभम शर्मा,अनुराग सिंह,चिराग शर्मा,रमेश यादव, समीर सोनी,अज्जु कोडल विकी आदि उपस्थित थे।

किसानों समस्याओं पर चर्चा के लिए बुलाएं विशेष सत्र

रायपुर। छत्तीसगढ़ में किसानों की खराब आर्थिक स्तिथि और शासन की गलत नीतियों की वजह से किसानों को हो रही समस्याओं पर तत्काल चर्चा करवाने के लिए प्रदेश के राज्यपाल से विधानसभा का आपातकालीन विशेष सत्र बुलाने की मांग की गयी है। यह मांग तीन विधायकगण अमित जोगी (मरवाही), सियाराम कौशिक (बिल्हा) और राजेंद्र कुमार राय (गुंडरदेही) ने संयुक्त रूप से राज्यपाल को पत्र लिख कर करी है। अपने पत्र में विधायकों ने लिखा है कि हमारे अन्नदाता की स्तिथि छत्तीसगढ़ सहित पूरे देश में बहुत ही खराब है। सरकार से कोई सहायता न मिलने पर किसानों को मजबूरन आंदोलन का सहारा लेना पड़ रहा है। मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र इसका ज्वलंत उदहारण है। छत्तीसगढ़ के किसान भाइयों की भी लगभग यही स्तिथि है। किसानों से 2013 में सत्ताधारी दल ने अपने चुनावी घोषणापत्र में 2100 रूपए समर्थन मूल्य और 300 रूपए बोनस देने का वायदा किया था जिसे आज तक पूरा नहीं किया गया है। भयंकर सूखे से जूझ रहे किसानों से सूखा राहत और फसल बीमा मुआवजे के नाम पर भी मजाक किया गया है। केंद्र सरकार ने मई 2016 में नेशनल वाटर फ्रेमवर्क बिल के तहत जल उपयोग नीति बनाने के लिए सभी राज्यों को निर्देशित किया था जिसके अंतर्गत उपलब्ध जल के उपयोग की पहली प्राथमिकता पेयजल के लिए, दूसरी प्राथमिकता किसानों को और उसके पश्चात तीसरी प्राथमिकता उद्योगों की होगी। हमारे प्रदेश में ठीक इसके विपरीत कार्य हो रहा है – किसानों के हक का पानी छीन कर उद्योगों को दिया जा रहा है। प्रदेश के जल संसाधन मंत्री का कहना है कि केंद्र द्वारा प्रस्तावित कानून को राज्य विधानसभा में पारित करवाने की आवश्यकता नहीं है। हाल ही में प्रधानमंत्री से मुख्यमंत्री को पुन: निर्देश मिले हैं कि अतिशीघ्र जल उपयोग नीति निर्धारित करने के लिए विधानसभा में संकल्प पारित करवाएं। राज्य सरकार ने केंद्र द्वारा किसानों के लिए संचालित बाजार हस्तक्षेप योजना समेत अन्य कई योजनाओं का लाभ यहाँ के किसानों को नहीं दिया है जिसका खामियाजा हमारे टमाटर तथा अन्य किसानों को उठाना पड़ा है।

फिल्म जगत में योगदान के लिए उद्यमी सुरजीत का हुआ सम्मान

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी में ‘छत्तीसगढ़ सांस्कृतिक संस्थान’ द्वारा मुम्बई के युवा उद्योगपति सुरजीत सिंह को ‘सदभावना सम्मान’ से सम्मानित किया गया। श्री सिंह को यह सम्मान उन्हें फिल्म जगत में उनके योगदान और के ऊपर उनके द्वारा बनाई जा रही फिल्म ‘द जर्नलिस्ट’ के लिए प्रदान किया गया। सुरजीत सिंह ने बहुत ही कम उम्र में उस मुकाम को पाया है, जो हर किसी के लिए आसान नहीं होता। इस अवसर पर रायपुर प्रेस क्लब अध्य्क्ष केके शर्मा, छत्तीसगढ़ मदरसा बोर्ड के अध्य्क्ष मिर्जा एजाज बेग, हरी ओम फिल्मस के डायरेक्टर पुनीत सोनकर, निर्माता अशोक तिवारी, चंद्र शेखर चौहान, ब्यूटिशियन रूना शर्मा के साथ बड़ी संख्या में फिल्म कलाकार उपस्थित थे।

नक्सलवाद के खिलाफ ‘नाटक’ से आगाज

रायपुर। आईजी बस्तर रेंज विवेकानंद सिन्हा, डीआईजी पी. सुंदरराज, एसपी अभिषेक मीना एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जितेंद्र शुक्ला के मार्गदर्शन और पुलिस अनुविभागीय अधिकारी सुकमा रामगोपाल करियारे के नेतृत्व में चलाये जा रहे ‘नक्सल मुक्त बस्तर अभियान’ के तहत ‘मित्रवत पुलिस’ कार्यक्रम का आयोजन थाना फुलबगड़ी अन्तर्गत ग्राम पंचायत सिरसेट्ठी, गड़गढ़, बडेसेट्ठी, मूलेर, गोगुंडा, केरलापाल, पोंगभेज्जी, गादीरास आदि पंचायतों के सभी गांवों को मिलाकर फुलबगड़ी में विशाल जनजागरूकता शिविर का आयोजन किया गया । कार्यशाला और शिविर में इंद्रधनुष नाट्य मंडली के माध्यम से नक्सल गतिविधियों और घटनाओं से क्षेत्रीय समाज, राज्य और देश के विकास को किस तरह बाधित किया जा रहा है पर व्यापक नाट्य प्रस्तुति की गई और विभिन्न विकासमूलक कार्यों के विरोध को दृश्यांकित कर उसके नुकसान को आमजनता के समक्ष रखकर सरकार के विकास कार्यों से जुड़ने हेतु प्रेरित किया गया। साथ ही भटके हुए युवा जो नक्सल के दुष्परिणाम से अनभिज्ञ है उन्हें भी राष्ट्र हित के मुख्य धारा में लौटने की अपील की गई। उक्त शिविर में हजारों की तादात में आसपास के नक्सल प्रभावित गांवों के आमजन वृहद संख्या में उपस्थित हुये, नाट्य मंचन को देखकर लोगों ने कहा कि नक्सली हमारे साथ ही करते है जैसे कि नाटक में दशार्या गया है और अपनी पीड़ा व्यक्त करने में नक्सली खौफ के कारण शासन, प्रशासन को बता पाने डरते है। अत: ग्रामीणजन क्षेत्र में *शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क, पानी, बिजली और अन्य मौलिक सुविधाओं* के विकास हेतु हर संभव प्रयास हो चाहते है लेकिन नक्सलीयों की शासन और विकास विरोधी गतिविधियों के कारण वे खुलकर नही बोल पाते है। शिविर में आम जनता को इस बात को भी समझाया गया कि शासन, प्रशासन क्षेत्र में चैन ,अमन और विकास के सभी आयामों की स्थापना चाहती है लेकिन नक्सलीयों के कायराना पूर्वक कार्यों और प्रत्येक विकास कार्यों के विरोध के कारण कई विकासात्मक कार्यों को अंजाम देना मुश्किल हो रहा है और जनता भी अपनी सर्वांगीण विकास की कई पहलुओं से दूर है। अत: आम जनता से भी अपील की गई कि अपने स्वयं के विकास हेतु वे आगे आएं और राष्ट्र और समाज विरोधी लोगों को भी समाज की मुख्यधारा में जुड़कर सतत विकास में सहयोग के लिए प्रेरित करें।

जोगी ने किया बेटी के जन्म पर एक लाख देने का वादा

रायपुर। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के संस्थापक अजीत जोगी ने अपनी पार्टी के एक साल पूरे होने पर ऐलान किया था कि वो अपने घोषणा पत्र को शपथ पत्र के रूप में जारी करेंगे। बुधवार को अजीत जोगी ने बिलासपुर पहुंचकर शपथ पत्र बनवाया। वह खुद हाईकोर्ट पहुंचे और स्टाम्प खरीदा और छत्तीसगढ़ की जनता के नाम शपथ पत्र बनाया। इस शपथ पत्र में छत्तीसगढ़ की जनता विशेषकर किसानों, महिलाओं एवं युवाओं के हित में लिए जाने वाले निर्णयों का ब्यौरा है। शपथ पत्र में सरकार बनने पर छत्तीसगढ़ के किसानों को ऋण मुक्त करने का ऐलान किया है। साथ ही 2500 रुपये समर्थन मूल्य, स्थानीय युवाओं को रोजगार देने कड़ा नियम एवं छत्तीसगढ़ी भाषा की बाध्यता, प्रदेश में पूर्ण शराबबंदी, महिलाओं को सभी क्षेत्रों में 33% आरक्षण एवं कन्या के जन्म होते ही एक लाख की एफडी करने वाले शपथ लिये गए हैं। 21 जून को जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के स्थापना दिवस के दिन ‘जन जन जोगी’ अभियान के तहत जोगी जी के इस एतिहासिक शपथ पत्र को पार्टी कार्यकता प्रदेश के हर घर में पहुंचाएंगे ।

कुमार से डिगने लगा ‘आप’ का विश्वास

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के सीनियर लीडर कुमार विश्वास को लेकर पार्टी में अंसतोष बढ़ रहा है और पार्टी के नेता उन पर हमला बोल रहे हैं। विश्वास पर ताजा हमला आप की दिल्ली यूनिट के पूर्व संयोजक दिलीप पांडे ने किया है। पांडे ने विश्वास की विश्वसनीयता पर बुधवार को सवाल खड़े करते हुए उनसे पूछा कि वह बीजेपी के खिलाफ क्यों कुछ नहीं बोलते। पांडे ने ट्वीट किया कि भैया, आप कांग्रेसियों को खूब गाली देते हो, पर कहते हो कि राजस्थान में वसुंधरा के खिलाफ नहीं बोलेंगे? ऐसा क्यों? विश्वास द्वारा कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित के सेना प्रमुख के प्रति अपमानजनक टिप्पणी की आलोचना करने और इससे पहले राजस्थान में वसुंधरा राजे सरकार के खिलाफ कुछ नहीं बोलने के बयान का हवाला देते हुए पांडे ने उनकी विश्वसनीयता पर सवाल उठाए हैं।

मुकेश बंसल बने एनआरडीए के सीईओ

–संभाला प्रभार, रजत कुमार को दी गई विदाई
रायपुर। आईएएस मुकेश बंसल ने बुधवार को नया रायपुर डेव्हलपमेंट अथॉरिटी का कार्यभार संभाला लिया। निवर्तमान सीईओ रजत कुमार ने पुष्प गुच्छ देकर श्री बंसल का स्वागत किया। पर्यावास भवन स्थित एनआरडीए मुख्यालय में इसके पूर्व रजत कुमार को विदाई दी गई। श्री कुमार के लगभग सवा दो वर्षांे के कार्यकाल में किये गये उनके महत्वपूर्ण कार्यो को रेखांकित किया गया। महाप्रबंधक एम.डी. कावरे ने रजत कुमार के कुशल नेतृत्व, तथा बहुआयामी कार्यशैली का उल्लेख किया। उन्होंने बताया कि श्री कुमार एक कड़े किन्तु संवेदनशील प्रशासक के तौर पर एनआरडीए में अपनी छाप छोड़कर जा रहे हैं। आईएएस अमित कटारिया मुख्य कार्यपालन अधिकारी का दायित्व फरवरी 2015 को रजत कुमार को सौंपा था और बुधवार को मुकेश बंसल को यह दायित्व सौंपा गया।