Daily Archives: June 16, 2017

रमन को भाया मेदनीपुर का रसगुल्ला

–दलित के घर बैठकर किया भोजन, हुआ स्वागत, आरती उतारी गई
मेदनीपुर । मोदी सरकार की उपलब्धियां बताने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह शुक्रवार को पश्चिम बंगाल के प्रवास पर पहुंचे। यहां मेदनीपुर में उन्होंने जनसभा को संबोधित किया। इससे पहले उन्होंने दलित पुच्चा भुनिया के घर खाना खाया। पश्चिम बंगाल दौरे पर पहुंचे डॉ. रमन सिंह के कार्यक्रम की शुरूआत दलित के घर भोजन से हुई। दोपहर दो बजे मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह हबीबपुर के बेनापुकुर पश्चिमपार वार्ड नंबर-1 पहुंचे। यहां उन्होंने पुच्चा भुनिया के घर पर भोजन किया। मिट्टी से बने घर में मुख्यमंत्री ने जमीन पर बैठकर पारंपरिक अंदाज में भोजन किया। दोना पत्तल में मुख्यमंत्री के लिए भोजन परोसा गया। खाने में मुख्यमंत्री को चावल-दाल के अलावा करेले की सूखी भुजिया, भिंडी की भुजिया और साग के साथ-साथ लौकी की सब्जी दी गयी। साथ में तवा रोटी और सलाद परोसी गयी। मुख्यमंत्री ने खूब चाव से भोजन किया और उसकी तारीफ की। खाने के बाद स्वीट डिश में खास तौर उनके लिए बंगाली रसगुल्ला मंगाया गया था जो मुख्यमंत्री को खूब पसंद आया। इससे पहले बतौर मेहमान उनका खास स्वागत किया गया, आरती उतारी गयी। कांसे के लोटे में पानी लाया गया ताकि भगवान को भोग लगा सकें। बंगाल में कांसे के बरतन में ही पानी पीने और खाने की परंपरा है।

 

अनंतनाग में आतंकी हमला, 6 पुलिसवाले शहीद

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में शुक्रवार को आतंकवादियों के घात लगाकर किए गए हमले में एक सब इंस्पेक्टर समेत 6 पुलिसवाले शहीद हो गए। दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले के थाजीवाड़ा अचबल में घात लगाकर बैठे आतंकवादियों ने पुलिस दल पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। शहीद एसएचओ की पहचान सब इन्सपेक्टर फिरोज के रूप में हुई है। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने बताया कि आतंकी हमले में कुछ पुलिसवाले गंभीर रूप में जख्मी हुए हैं जिन्हें नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि मौका-ए-वारदात पर सेना की टुकड़ी पहुंच चुकी है जो आस-पास के इलाकों में सर्च आॅपरेशन चला रही है। इससे पहले भी आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों और पुलिस को निशाना बनाते हुए हाल में कई हमले कर चुके हैं। इससे पहले गुरुवार को श्रीनगर के हैदरपुरा इलाके में आतंकियों के हमले में गंभीर रूप से जख्मी पुलिसवाले ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था। वहीं कुलगाम जिले के बोगंड गांव में आतंकियों के हमले में सीआरपीएफ के एक जवान शहीद हुए थे। मंगलवार को भी आतंकियों ने 4 घंटे के भीतर घाटी के अलग-अलग हिस्सों में एक के बाद एक कुल 6 हमले किए थे, जिनमें 13 जवान जख्मी हुए थे। आतंकियों ने 4 सर्विस राइफल भी लूट लिया था।

अब संगठित होकर किसान संगठन करेंगे आन्दोलन

नई दिल्ली। शुक्रवार को देश भर के लगभग 100 छोड़े-बड़े किसान संगठनों ने मिलकर आंदोलन करने का फैसला लिया। दिल्ली के गांधी शांति प्रतिष्ठान में एक समन्वय समिति का गठन किया गया जिसका नाम अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति रखा गया है। समिति ने छह जुलाई को मंदसौर से देश भर में कर्ज माफी को लेकर पद यात्रा करने फैसला लिया है। उधर शुक्रवार को किसान संगठनों ने देश भर के नेशनल हाइवे तीन घंटे के लिए जाम रखने का ऐलान किया। पुलिस उनको हटाने के लिए मशक्कत करती दिखी। किसान संगठन अब लामबंद हो रहे हैं। अब उनकी एक साझा आंदोलन की तैयारी है। योगेंद्र यादव, तमिलनाडु के अय्यकन्नू, हनन मुल्ला राजस्थान के रामपाल, महाराष्ट्र के राजू शेट्टी जैसे नेताओं ने मांग की है कि स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू हों, किसान को फसल का सही मूल्य दिया जाए और किसानों का पूरा कर्ज़ माफ किया जाए। अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति ने ऐलान किया है कि छह जुलाई से मंदसौर से देशव्यापी किसान यात्रा निकाली जाएगी। इस यात्रा का समापन दो अक्टूबर को चंपारण में होगा। सांसद और किसान नेता राजू शेट्टी का कहना है कि हम यात्रा निकालेंगे मंदसौर से जहां किसानों की हत्या हुई। सबको एक करेंगे, गांव-गांव जाकर किसानों का जोड़ने का काम करेंगे।

राष्ट्रपति से मोहन भागवत ने डेढ़ घंटे की गुफ्तगू

नई दिल्ली। संघ प्रमुख मोहन भागवत शुक्रवार को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मिले। दोनों नेताओं की लंच पर मुलाकात हुई। ये मुलाकात करीब डेढ़ घंटे चली। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निमंत्रण पर ये मुलाकात हुई। राष्ट्रपति भवन में भागवत उनसे मिलने पहुंचे। वैसे तो इसको शिष्टाचार भेंट बताया जा रहा है लेकिन आगामी राष्ट्रपति चुनावों को देखते हुए इसके सियासी निहितार्थ निकाले जा रहे हैं। आरएसएस के सूत्रों ने बताया कि भागवत राष्ट्रपति से मुलाकात के लिए रुद्रपुर से शुक्रवार को राष्ट्रीय राजधानी पहुंचे। वह संघ के स्वयंसेवक शिक्षण और प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल होने के लिए गुरुवार को रुद्रपुर में थे। राष्ट्रपति चुनाव से ऐन पहले हुई इस मुलाकात ने राजनीतिक हलकों में अटकलों को हवा दी है।