Daily Archives: July 4, 2017

मेक इन इंडिया की तर्ज पर अब ‘मेक इन यूपी’

— 40% महिलाओं को नौकरी देने वाले उद्योग फायदे में रहेंगे
लखनऊ। योगी सरकार की मंगलवार को 13वीं कैबिनेट मीटिंग हुई। इस दौरान 2 अहम प्रस्तावों पर मुहर लगी। मीटिंग के बाद कैबिनेट मंत्री सतीश महाना ने मीडिया से बातचीत में बताया, नई इंडस्ट्रियल पॉलिसी और मेक इन यूपी विभाग की स्थापना को मंजूरी दे दी गई है। नई पॉलिसी में पश्चिमांचल और मध्यांचल क्षेत्र में उद्योगों को बढ़ावा देने पर जोर दिया जाएगा।”

कौन- कौन से हुए फैसले

1- 25 फीसदी एससी-एसटी युवकों को नौकरी देने पर लाभ मिलेगा
2- 40 फीसदी महिलाओं को नौकरी देने वाले उद्योगों को विशेष फायदा
3- ज्यादा रोजगार देने वाले उद्योगों को प्रोत्साहन मिलेगा
4- 10 फीसदी की वैटप्रतिपूर्ति दी जाएगी
5- गोरखपुर और पूर्वांचल में 100 करोड़ से ज्यादा निवेश पर लाभ
6- 500 लोगों को रोजगार देने वाली यूनिट को पॉल?िसी म?िलेगी
7- पश्चिमांचल और मध्यांचल में उद्योगो को भी लाभ-महाना
8- 150 करोड़ से ज्यादा निवेश या 750 लोगों के उद्योगों को पॉलिसी
9- नोएडा, गाजियाबाद में 200 करोड़ के निवेश पर विशेष लाभ
10- मेक इन इंडिया यूपी विभाग की स्थापना की जाएगी
11-औद्योगिक क्लस्टर में डेडीकेटेड पुलिस फोर्स तैनात होगी

जीएसटी पर व्यापारियों का भ्रम दूर करेंगे जेटली

–नौ जुलाई को रायपुर में होगा सम्मेलन
रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि एक जुलाई से लागू गुडस और सर्विसेस टेक्स पर छत्तीसगढ़ की जनता और व्यावसायिक संस्थानों ने सकारात्मक रूख दिखाते हुए इसे तेजी से अपनाना शुरू कर दिया है । मुख्यमंत्री ने यह जानकारी केन्द्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली को नई दिल्ली में वित्त मंत्रालय में हुई मुलाकात के दौरान दी । मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय वित्त मंत्री को 9 जुलाई को रायपुर में जीएसटी पर आयोजित वृहद सम्मेलन और प्रशिक्षण सत्र के लिए आमंत्रित किया । केन्द्रीय वित्त मंत्री ने इस सम्मेलन में आने के लिए सहर्ष स्वीकृति भी प्रदान की । मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने केन्द्रीय वित्त मंत्री को छत्तीसगढ़ में जीएसटी के प्रशिक्षण और भावी योजना के बारे में विस्तार से बताया । उन्होंने कहा कि हम जुलाई माह में विकासखंड स्तर तक 500 से अधिक कार्यशालाएं आयोजित कर रहे है । जिनमें ब्लॉक स्तर पर मुनीम , अकाउण्टेंट तथा कॉमन सर्विस सेंटर के आपरेटर को प्रशिक्षण दिया जायेगा । उन्होंने बताया की इन प्रशिक्षण केन्द्रों में स्थानीय स्तर पर व्यावसायिक संघों, चार्टर्ड अकाउण्टेंट, कर सलाहकार को भी सम्मिलित किया जायेगा । मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय वित्त मंत्री को बताया कि राज्य में कुल पंजीकृत व्यवसायियों के लगभग 92 प्रतिशत व्यवसायियों ने जीएसटी में पंजीकरण करा लिया है । इनमें से अधिकांश को जीएसटी के प्रावधानों की जानकारी भी दी जा चुकी है । उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण के लिए जीएसटी एक्ट और नियम की सरल भाषा में जानकारी के लिए ब्रोशर , पम्पलेट , पीपीटी , एफएक्यू , टवीटर , फेसबुक और अन्य माध्यमों से उपलब्ध करायी जा रही है। व्यवसासियों की शंका के समाधान के लिए भी तंत्र विकसित किया गया है ।

युवा जकांछ ने कांग्रेस भाजपा पर कसा तंज

रायपुर। हाई पावर कमेटी द्वारा जाति मामले में सौंपी गई जांच रिपोर्ट को मनगढंत बताकर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे की युवा इकाई के कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस भाजपा पर तंज कसा है। कार्यकर्ताओं ने जाति के मुद्दे पर दोनों पाटियों के गठजोड़ की ओर इशारा करते हुए नाटक के माध्यम से दोनों दलों के बीच शादी किए जाने की रस्म निभाई। युवा जनता कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष विनोद तिवारी ने बताया कि मंगलवार की दोपहर युवा जनता कांग्रेस के कार्यकर्ता गाजे-बाजे के साथ दुल्हा-दुल्हन को लेकर बूढ़ा तालाब स्थित धरना स्थल पहुंचे। वहां पर दूल्हा-दुल्हन का सिंगार कर वर-माला कराया गया। अग्नि जला सात फेरे करवायें गये। दूल्हे के चेहरे में भाजपा लिखा हुआ था व दुल्हन के चेहरे में कांग्रेस लिखा हुआ था। फेरे लगाते वक्त दोनों ने एक-दूसरे को वचन दिया कि हम दोनों एक-दूसरे का साथ बुरे कर्मो में देते रहेंगे। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से निर्मल मेश्राम, दुल्हन भूपेन्द्र साहू, विक्की रात्रे, सतीश वर्मा, विक्की वाधवानी, कुतुप कपासी, संजय तिवारी, दीपक जायसवाल, सैय्यद उमैर, रामचक्रधारी, देवराज भाठ, शेख वहाज, विकास मानिकपुरी, श्याम झा, सुनील सोनी, बिज्जु बंजारे, मृत्युजंय तिवारी, शुभम शर्मा, आकाश नाग, विष्णु नायक, सौरभ राय, सोनू सतवानी, भर्थरी निषाद, दीपक कुलश्रेष्ठ आदि कार्यकर्ता शामिल थे।

समाज की सच्चाई को उजाकर करेगी फिल्म ‘पंचायत के फैसला’

छत्तीसगढ़ी फिल्म जगत में एक और सामाजिक, पारिवारिक फिल्म ‘पंचायत के फैसला’ ने अपनी धमाकेदार दस्तक दी है। फिल्म का फिल्मांकन रायपुर, बीरगांव के निकट कुम्हारी ग्राम में किया गया। विशुद्ध छत्तीसगढ़ी परिवेश-संस्कृति पर केन्द्रित इस फिल्म की पटकथा लेखक-निर्देशक मनीराम यादव तथा निमार्ता डॉ. मनोज साहू है। फिल्म की कहानी बड़ी मार्मिक, हृदयस्पर्शी है जिसमें बुजुर्गों की अवहेलना, बहुओं की प्रताड़ना और झूठे बेबुनियाद आरोप लगाने की प्रवृत्ति को प्रभावी ढंग से प्रदर्शित किया गया है। फिल्म के विभिन्न किरदारों को वरिष्ठ रंगकर्मी सर्वश्री अरूण काचलवार, विजय मिश्रा ‘अमित’, रामदास कुर्रे, देवशरण नाग, ललीत निषाद, एलिजा धीर, गौरी क्षत्रिय, ज्योति सक्सेना, पूजा कश्यप, संतोषी घृतलहरे, सिमरन कौर, राजेन्द्र मानिकपुरी, विक्रान्त मिश्रा, कर्ण चैहान ने अपनी सशक्त अभिनय क्षमता से जीवन्त किया । कैमरामेन श्री जगत खण्डेलवार ने बड़ी खूबसूरती के साथ विभिन्न लोकेशन में फिल्मांकन किया। फिल्म के प्रमुख किरदार सरपंच बने पॉवर कंपनी के उपमहाप्रबंधक (जनसंपर्क) विजय मिश्रा ने कहानी का सार व्यक्त करते हुये बताया कि एक बूढ़े बीमार ससुर द्वारा बहु के हाथ पकड़ने की मामूली घटना से कहानी आरंभ होती है। इसे पढ़ी-लिखी बहू ससुर की भावना को गलत करार देती है। मामला गांव के पंचायत तक जा पहुंचता है। जहां सरपंच और महिला पंचों द्वारा बड़ी रोचकता के साथ इस सच्चाई को उजागर किया जाता है कि बूढ़े ससुर की लालसा घर के सदस्यों से अपनापन पाने की रही जिसे व्यक्त करने वह बहू का हाथ पकड़ता है। बूढ़े ससुर को निर्दोष साबित करते हुये पंचायत द्वारा यह बात सामने लाई जाती है कि वृद्धजनों की सेवा सहित गांव को संस्कारवान, स्वच्छ और व्यसनमुक्त बनाना है। नई युवा पीढ़ी और बूढ़े होते माता-पिता, सास-ससुर के मध्य बढ़ते ‘जनरेशन गेप’ की समस्या के नियंत्रण हेतु सुसंस्कार के महत्व को फिल्म में विशेष रूप से उजागर किया गया है।

गौरीशंकर और पैकरा ने की बाहुड़ा यात्रा की अगवानी

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल और गृह मंत्री रामसेवक पैकरा राजधानी रायपुर के गायत्री नगर स्थित भगवान जगन्नाथ मंदिर में रथयात्रा वापसी समारोह में शामिल हुए। उन्होंने भगवान श्री जगन्नाथ के मौसी के घर से मंदिर वापस आने (बाहुड़ा यात्रा) पर पूजा-अर्चना कर प्रदेशवासियों की खुशहाली और मंगलमय जीवन और किसानों को खेती – किसानी लायक पानी देने के लिए भगवान से प्रार्थना की। श्री जगन्नाथ सेवा समिति द्वारा आयोजित रथ यात्रा वापसी कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल ने भगवान के रथ से मंदिर परिसर तक महाप्रभु के मार्ग में सोने की झाडू से बुहारी लगाकर रस्म पूरी की। गृह मंत्री रामसेवक पैकरा ने भगवान जगन्नाथ जी के मार्ग में पवित्र जल का छिड़काव किया। अपूर्व श्रद्धा और उत्साह से ढोल, नगाड़ों एवं शंखों की मधुर ध्वनि के साथ महाप्रभु जगन्नाथ की प्रतिमा रथ से मंदिर परिसर तक लाई गई। परम्परागत विधि-विधान से भगवान श्री जगन्नाथ जी, उनके भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा की पूजा कर पुष्पाजंलि अर्पित की गई। इस अवसर पर श्री जगन्नाथ सेवा समिति के अध्यक्ष पुरंदर मिश्रा, बसना के नगर पंचायत अध्यक्ष संपत अग्रवाल, पार्षद मनोज प्रजापति अन्य पदाधिकारी सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित थे।

महापौर और कांग्रेस पार्षद दल के साथ बृजमोहन ने की बैठक

रायपुर। प्रदेश के कृषि एवं सिंचाई मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने रायपुर शहर के विकास को गति प्रदान करने के मकसद से मंगलवार को महापौर प्रमोद दुबे और कांग्रेस पार्षदों के साथ बैठक की । श्री अग्रवाल के शंकर नगर निवास में हुई इस बैठक में शहर की विभिन्न समस्याओं और भावी योजनाओं के क्रियांवयन के संबंध में चर्चा हुई। श्री अग्रवाल ने कहा कि रायपुर शहर को स्मार्ट सिटी बनाना है, इसके लिये बड़ी सोंच रखते हुए सबको एकजुट होकर शहर व जनता के हित में काम करना है।निगम में दक्ष कर्मचारियों की कमी को लेकर भी चर्चा हुई। इस समस्या का जल्द समाधान कराये जाने की बात श्री अग्रवाल ने कही। बैठक पार्षद सतनाम सिंह पनाग,गोवर्धन शर्मा,एजाज ढेबर,समीर अख्तर,अजीत कुकरेजा, श्रीकृष्ण मेनन, आदि पार्षद उपस्थित थे।

छत्तीसगढ़ के विकास को गति देने जुटेंगे गायत्री परिवार के सदस्य

–शांतिकुंंज में आयोजित किया गया राष्ट्रीय युग प्रवक्ता शिविर
रायपुर/ हरिद्वार। छत्तीसगढ़ राज्य के सैकड़ों गायत्री परिवार के कार्यकर्ताओं का चार दिवसीय विशेष प्रशिक्षण शिविर हरिद्वार के गायत्री तीर्थ शांतिकुंज में सम्पन्न हो गया। शिविर में रायपुर, बिलासपुर, रायगढ़, बस्तर, महासमुंद, राजनांदगांव सहित राज्य के सभी जिलों के चयनित कार्यकर्ताओं ने भागीदारी की। शिविर का मुख्य उद्देश्य छत्तीसगढ़ के चहुमुंखी विकास में गायत्री परिवार के योगदान एवं युवाओं को रचनात्मक दिशा में भागीदारी बढ़ानी रही। प्रशिक्षण शिविर में छत्तीसगढ़िया भाई-बहिनों ने पं. श्रीराम शर्मा आचार्य के सपनों को साकार करने के उद्देश्य से गायत्री परिवार के अंतर्राष्ट्रीय मुख्यालय शांतिकुंज के सौंपे प्रत्येक रचनात्मक कार्यक्रमों में सक्रिय भागीदारी करने का संकल्प लिया है। राज्य के युवाओं को स्वावलंबी बनाने, उनकी दशा व दिशा में सकारात्मक परिवर्तन लाने के अलावा वृहत स्तर पर वृक्षारोपण चलाने का भी निर्णय लिया गया। अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि समाजसेवियों का जीवन पारदर्शी होना चाहिए। समाजसेवी की कथनी और करनी एक जैसी हो, तभी समाज की प्रगति होगी। उन्होंने कहा कि समाज के अग्रिम पंक्ति के लोगों का अनुकरण जन सामान्य करते हैं, ऐसे में उनका कर्तृत्व दर्पण की भाँति पारदर्शी होना चाहिए। इससे पूर्व प्रज्ञा अभियान के संपादक व वरिष्ठ कार्यकर्त्ता वीरेश्वर उपाध्याय ने कहा कि गायत्री परिवार के कार्यकर्ताओं को लोकसेवी की तरह कार्य करना है। उन्होंने लोकसेवी बनने की विविध उपायों की जानकारी दी।

एमआरपी से अलग नहीं होगा कोई टैक्स

— कीमत बढ़ने पर देना होगा अखबार में देना होगा विज्ञापन
नई दिल्ली। जीएसटी लागू होने के बाद कमोडिटीज की सप्लाई और उनकी कीमतों पर नजर रखने के लिए सरकार ने एक कमिटी का गठन किया है। मंगलवार को जीएसटी से जुड़े कई भ्रमों को दूर करते हुए राजस्व सचिव हसमुख अढ़िया ने बताया कि अब तक 2 लाख 2 हजार लोगों ने जीएसटी के तहत रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन दिया है। जीएसटी लागू होने के बाद प्रॉडक्ट्स के एमआरपी से अलग वसूली को लेकर उपभोक्ता मामलों के सचिव अविनाश श्रीवास्तव ने कहा, जीएसटी लागू होने के बाद रिटेल प्राइस में संशोधन हो सकता है। यदि एमआरपी से अधिक दाम होंगे तो मैन्युफैक्चरर्स को दो अखबारों में सूचना देनी होगी और पैकेट पर रिवाइज एमआरपी लिखनी होगी। दाम कम होने पर विज्ञापन देने की जरूरत नहीं है, लेकिन रिवाइज एमआरपी अलग से लिखनी होगी। किसी भी चीज की एमआरपी में सभी टैक्स शामिल होंगे। इसके लिए अलग से किसी तरह के टैक्स की वसूली नहीं की जा सकती।

20 लाख से कम टर्नओवर वाले कारोबारियों को छूट
अढ़िया ने कहा कि लोग यह सवाल पूछ रहे हैं कि यदि 20 लाख से कम के टर्नओवर वाले कारोबारियों से जीएसटी नहीं लिया जाएगा तो फिर सरकार को कमाई कैसी होगी। उन्होंने कहा, थोक दुकानदार से रिटेलर को सामान बेचने पर ही सरकार को टैक्स मिल जाता है। लेकिन, कंपोजिशन या छूट हासिल करने वाले डीलर को इसकी जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि यदि हम छोटे रिटेलर से टैक्स नहीं ले रहे हैं तो भी वह हमें थोक दुकानदार से सामान बिकने पर ही मिल चुका होता है।

15 विभागों के सचिवों की बनी कमिटी
अढ़िया ने कहा कि जीएसटी के सही क्रियान्वयन पर निगरानी के लिए सरकार ने 15 विभागों के सचिवों की एक कमिटी गठित की है। कुल 175 अधिकारियों को इस काम में लगाया जाएगा। एक अधिकारी के पास 4 से 5 जिलों की जिम्मेदारी होगी। जीएसटी के बाद कीमतों और सप्लाई पर सरकार की नजर है।

दूरदर्शन पर 6 दिन चलेगी क्लास
जीएसटी से जुड़े सवालों के आसानी से जवाब देने के लिए सरकार ने नई व्यवस्था की है। अढ़िया ने बताया कि दूरदर्शन के नैशनल चैनल पर 6 दिन जीएसटी पर क्लास चलेगी। यह क्लास 3 दिन हिंदी और तीन दिन अंग्रेजी में होगी। इन क्लासेज की शुरूआत गुरुवार से हो रही है। गुरुवार और शुक्रवार को शाम 4:30 से 5:30 तक क्लास होगी, जबकि शनिवार को यह क्लास दोपहर 12 बजे होगी। इसके बाद सोमवार, मंगलवार और बुधवार को अंग्रेजी में क्लास होगी।

इजरायल में मोदी का ग्रैंड वेलकम

यरुशलम। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बहुप्रतीक्षित इजरायल दौरा मंगलवार से शुरू हो गया। इजरायल पहुंचने पर हवाईअड्डे पर मेजबान पीएम बेंजामिन नेतन्याहू ने प्रोटोकॉल तोड़ते हुए पीएम मोदी की अगवानी की। इजरायल द्वारा इस तरह की अभूतपूर्व अगवानी अमेरिकी राष्ट्रपति और ईसाई धर्म के सर्वोच्च धर्मगुरु पोप के लिए ही की जाती रही है। 70 साल में पहली बार कोई भारतीय पीएम यरुशलम पहुंचा है। हवाईअड्डे पर नेतन्याहू ने गर्मजोशी से पीएम मोदी का स्वागत किया। दोनों नेता एक दूसरे के गले मिले। पीएम मोदी ने अहमदिया मुस्लिम समुदाय के प्रतिनिधि से भी मुलाकात की। हवाईअड्डे पर ही दोनों पीएम का एक छोटा सा संबोधन भी हुआ। पीएम मोदी की यह यात्रा कई मायने में ऐतिहासिक रहने वाली है। इजरायल ने भारतीय पीएम को सरप्राइज देने का वादा किया है। दोनों देशों के बीच कई सामरिक और रणनीतिक समझौते पर हस्ताक्षर होने की उम्मीद है।

ये मेरे लिए सम्मान की बात है कि मैं इजरायल आने वाला पहला भारतीय हूं। मैं अपने दोस्त प्रधानमंत्री नेतन्याहू का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं कि उन्होंने मुझे न्योता दिया और इतनी गर्मजोशी से मेरा स्वागत किया। यह दौरा बताता है कि हम दोनों देशों के बीच कितना पुराना रिश्ता है।
नरेन्द्र मोदी

आपका स्वागत है मेरे दोस्त। 70 साल से भारत का इंतजार था। अंतरिक्ष तक इजरायल के भारत से रिश्ते हैं, दोनों देशों के संबंध आसमान से भी ऊंचे हैं।
बेंजामिन नेतन्याहू

20 मिनट में तीन बार गले मिले
– मोदी और नेतान्याहू के बीच केमिस्ट्री काफी अच्छी दिखी। दोनों नेता 20 मिनट में करीब तीन बार गले मिले।
– मोदी के प्लेन से उतरने के बाद नेतान्याहू ने उनका वेलकम किया। पहली बार दोनों नेता यहीं गले मिले।
– नेतान्याहू ने स्पीच दी। जैसे ही स्पीच खत्म हुई दोनों नेता दूसरी बार गले मिले। मोदी की स्पीच के बाद दोनों नेता तीसरी बार गले मिलते दिखे।

बिना परमिट और फिटनेस वाले आटो होंगे शहर से बाहर

रायुपर। राजधानी रायपुर में सुगम और सुव्यवस्थित यातायात के लिए मंगलवार को यहां जिला कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में कलेक्टर ओपी चौधरी और पुलिस अधीक्षक डॉ. संजीव शुक्ला की अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक आयोजित हुई। जिसमें शहर में यातायात जाम होने से आम जनता को होनेवाली परेशानियों को देखते हुए कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए वहीं शहर में दिनोदिन बढ़ते यातायात को देखते हुए वृहद कार्ययोजना के लिए आवश्यक प्रस्ताव शासन को भेजने का निर्णय भी लिया गया। बैठक में निर्णय लिया गया कि बिना परमिट और फिटनेस वाली आटो को शहर से बाहर किया जाए। शहर में संचालित हो रहे आटो की संख्या के अनुरूप स्टैण्ड के लिए जगहों का चिन्हाकंन कर वहां आटो स्टैण्ड बनाया जाए। व्यवसायिक परिसरों में निर्मित पार्किंग का पूर्ण उपयोग सुनिश्चित किया जाए और पार्किंग के स्थान पर दूसरा उपयोग करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई भी की जाए। कलेक्टर श्री चौधरी ने कहा कि यदि शहर के चौक-चौराहों में छोटे-मोटे आवश्यक सुधार कर दिए जाएं तो वहां जाम की स्थिति से निजात पाया जा सकता है। उन्होंने इसके लिए नगर निगम के अतिरिक्ति आयुक्त आशीष टिकरिहा की अध्यक्षता में एक टीम भी गठित की है। जिसमें अतिरिक्ति पुलिस अधीक्षक यातायात बलराम हिरवानी और लोक निर्माण विभाग एवं विद्युत विभाग के संबंधित क्षेत्र के कार्यपालन अभियंता को शामिल किया गया है।