Daily Archives: July 11, 2017

जीएसटी से उद्यमियों को डरने की जरूरत नहीं

रायपुर। केन्द्रीय कर विभाग द्वारा आयोजित कार्यशाला में शामिल होने पहुंचे केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री व अर्थशास्त्री एसएस अहलूवालिया ने कहा कि जीएसटी से उद्यमियों को डरने की जरुरत नहीं है। समता कालोनी स्थित महाराजा अग्रसेन इंटर कॉलेज के सभागार में आयोजित कार्यशाला में उन्होंने व्यापारियों का आह्वान किया कि वे टेक्नोलाजी अपनाकर जीएसटी से लाभ उठाएं। उन्होंने कहा कि अब किसी प्रकार से कोई टैक्स की चोरी नहीं कर सकता। उन्होंने उदाहरण देकर समझाया कि पानी की टंकी में अगर लीकेज रहेगा तो कभी भी उसमें पानी नहीं भर सकता। इसी तरह से राष्ट्रीय आय में हो रहे लीकेज को जीएसटी रोकेगा और देश समृद्ध होगा। श्री अहलूवालिया से पहले सांसद रमेश बैस ने अपने वक्तव्य दिए और जीएसटी की सराहना की। केन्द्रीय कर विभाग के आयुक्त वीके सिन्हा ने बताया कि छत्तीसगढ़ में केन्द्रीय कर देने वाले 15 हजार उद्यमी रजिस्टर्ड हैं। इनमें से 12800 उद्यमी जीएसटी में पंजीयन करा चुके हैं। शेष उद्यमी भी जल्द ही पंजीयन करा लेंगे। राज्य कर विभाग की आयुक्त पी. संगीता ने भी जीएसटी पर अपने विचार व्यक्त किए।

छत्तीसगढ़ में ISI का फर्जी मार्का लगाकर बेंचा जा रहा पानी

–भारतीय मानक ब्यूरो की छापेमारी में खुली पोल
रायपुर। छत्तीसगढ़ में आईएसआई का फर्जी मार्का लगाकर बोतलबंद पानी लोगों को बेंचा जा रहा है। इसका भंडाफोड मंगलवार को भारतीय मानक ब्यूरों की छापेमारी के बाद हुआ है। ब्यूरो ने रायगढ़ के बाजिन में संचालित मेसर्स आयूष बेवरेज को सीज कर दिया है और वहां से 153 जार को भी बरामद किया है जिसमें फर्जी आईएसआई मार्का को लगाया गया था। भारतीय मानक ब्यूरो के छत्तीसगढ़ प्रमुख एके सिन्हा ने बताया कि उन्हें शिकायत मिल रही थी कि रायगढ़ में फर्जी तरीके से आईएसआई का मार्का लगाकर बोतलबंद पानी को बाजार में बेंचा जा रहा है। शिकायत के बाद उन्होंने जांच के लिए टीम का गठन किया। मंगलवार को टीम ने अचानक छापेमारी की तो पोल खुलकर सामने आ गई। मेसर्स आयूष बेवरेज द्वारा भारतीय मानक ब्यूरों से बगैर लाइसेंस लिया 20 लीटर के जार पर आईएसआई का मार्का लगाकर पानी बेंचा जा रहा था। श्री सिन्हा ने बताया कि संबंधित के विरुद्ध भारतीय मानक ब्यूरो के एक्ट 1986 के तहत कार्रवाई की जा रही है।

भ्रष्टाचार : कोडार डेम के घोटालेबाजों पर कार्रवाई नहीं

रायपुर। जल संसाधन विभाग में भ्रष्टाचार की जड़े काफी गहरी हो चुकी हैं। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि शहीद वीर नारायण सिंह बांध ‘कोडार’ डेम के सेफ्टी प्रोजेक्ट में गलत स्टीमेट और फर्जी माप देकर 1.51 करोड़ रुपए के बोगस भुगतान कराये जाने की पुष्टि के बाद भी दोषी अफसरों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है। इस घोटाले की पुष्टि उड़नदस्ता जांच दल ने की है। प्रमुख अभियंता एचसी कुटारे ने 19 अगस्त 2016 को जल संसाधन विभाग के सचिव गणेश शंकर मिश्र को इसकी रिपोर्ट भी भेज दी है। रिपोर्ट में तत्कालीन उप अभियंता आरएस माली, अनुविभागीय अधिकारी एसके खरे, कार्यपालन अभियंता पीके आनंद और तत्कालीन प्रभारी कार्यपालन अभियंता दिनेश कुमार भगोरिया को दोषी बताया गया है। प्रमुख अभियंता ने दोषी अधिकारियों के विरुद्ध दंडात्मक कार्रवाई किए जाने की अनुशंसा भी की है। बावजूद इसके भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। बड़ा सवाल है कि आखिर जांच रिपोर्ट आने और प्रमुख अभियंता द्वारा शासन के सचिव को रिपोर्ट भेजकर कार्रवाई की अनुशंसा किए जाने के बाद भी कार्रवाई आखिर क्यों नहीं की गई।
ठेकेदार सुनील ने कराया था काम
कोडार डेम के सेफ्टी प्रोजेक्ट का काम अ-5 वर्ग के ठेकेदार सुनील अग्रवाल को आवंटित हुआ था। इसके लिए 431.55 लाख रुपए का अनुबंध हुआ था और 12 जून 2013 को कार्यादेश जारी किया गया था। जांच की प्रक्रिया पूरी होने तक ठेकेदार को 416.59 लाख रुपए का भुगतान किया जा चुका था।

सुधा के नाम रहा सावन क्वीन अवॉर्ड

रायपुर। रायपुर शहर की प्रथम महिला श्रीमती दीप्ति प्रमोद दुबे द्वारा मोतीबाग में सावन उत्सव का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में शहर की महिलाओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। सावन उत्सव के कार्यक्रम में सर्वप्रथम पौधारोपण किया गया तथा रोपित किये पौधों के देख-रेख के लिए सभी सदस्यों ने शपथ लिया। इस मौके पर विभिन्न खेल एवं नृत्य-गायन कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित राज्यसभा सांसद श्रीमती छाया वर्मा ने महिलाओं का उत्साह बढ़ाया। पार्षद श्रीमती मीनल छगन चौबे ने जज की भूमिका निभाई। कार्यक्रम में श्रीमती सुधा शर्मा को सावन क्वीन के रूप में चुना गया। संचालन सुश्री अदिति दुबे द्वारा किया गया। सावन उत्सव के इस कार्यक्रम में श्रीमती अनिता योगेन्द्र शर्मा, महिला पार्षद श्रीमती राजकुमारी व्यास, श्रीमती नीता विनोद अग्रवाल सहित विशेष रूप से विनीता पाण्डे, नूतन दीवान, नीतू शर्मा, बबिता शर्मा, अंजना शर्मा, प्रवीणा जैन, उमा तिवारी, मिना शर्मा, रेखा शर्मा, कुसुम तिवारी, सुनीता तिवारी, डिम्पी शुक्ला, पिंकी राजपूत, ममता शर्मा, सुषमा तिवारी, माया प्रसाद, रिया तिवारी, पम्मी शुक्ला, कु. नेहा ठाकुर आदि उपस्थित रहे।

छत्तीसगढ़ में विद्युत कर्मियों को मिलेगा नया वेतनमान

रायपुर। छत्तीसगढ़ स्टेट पावर कंपनीज के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के विभिन्न संगठनों द्वारा 11 जुलाई को आहुत की गई एक दिवसीय सांकेतिक हड़ताल के संबंध में मंगलवार को पावर कंपनीज के अध्यक्ष शिवराज सिंह के साथ विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों के साथ चर्चा हुई । चर्चा के दौरान अध्यक्ष ने उन्हें अवगत कराया कि वेतन पुनरीक्षण संबंधी उनकी सभी मांगों को पावर कंपनी के संचालक मण्डल की जुलाई माह में आयोजित होने वाली बैठक में रखा जाएगा । कंपनी अध्यक्ष द्वारा श्रमिक संघों एवं संगठनों के पदाधिकारियों को यह भी आश्वस्त किया गया कि जुलाई 2017 से वेतन भुगतान पुनरीक्षित वेतनमान अनुसार किया जाएगा ।

सड़क हादसे में लखनऊ के एक ही परिवार के सात की मौत

प्रतापगढ़। उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में मंगलवार की सुबह दर्दनाक सड़क हादसा हुआ। इस हादसे में एक ही परिवार के सात सदस्यों की दर्दनाक मौत हो गयी। मरने वालों में एक नौनिहाल भी शामिल हैं। जानकारी के मुताबिक लखनऊ के चौक निवासी सुमित मिश्र अपने परिवार के साथ बैगन आर कार से इलाहाबाद जा रहे थे। सुबह करीब सात बजे के करीब वह प्रतापगढ़ जिले के कुंडा कस्बे में मानिकपुर थाना क्षेत्र में इलाहाबाद हाईवे पर पहुंचे थे। इसी दौरान उनकी कार हादसे का शिकार हो गयी। हादसा इतना जबरदस्त था कि कार में सवार सभी सात सदस्यों की मौत हो गयी। इनमें चार महिला, दो पुरुष और बच्चा शामिल है। घटना की जानकारी होते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर अन्त्य परीक्षण के लिए भेजा है।