Daily Archives: July 14, 2017

अगस्त में आएगी मरहूम ओम पुरी की आखिरी फिल्म

बॉलिवुड ऐक्टर मरहूम ओम पुरी को अंतिम बार सलमान खान की फिल्म ‘ट्यूबलाइट’ में देखा गया था। इसके बाद उन्हें एक बार फिर उनकी अंतिम फिल्म में देखा जाएगा जो अगस्त में रिलीज़ होगी। इसी साल दिल का दौरा पड़ने से ओम पुरी की मौत हो गई थी।
ओम पुरी की अंतिम फिल्म ‘मिस्टर कबाड़ी’ है जो एक व्यंगात्मक कॉमिडी फिल्म है। इस फिल्म में अन्नू कपूर मुख्य भूमिका में हैं। इस फिल्म का डायरेक्शन ओम पुरी की पहली पत्नी सीमा कपूर ने किया है। यह फिल्म अगले महीने रिलीज़ होगी। हमारे सहयोगी अखबार मुंबई मिरर से बात करते हुए सीमा ने कहा, ‘मिस्टर कबाड़ी एक व्यंगात्मक कॉमिडी फिल्म है। इस फिल्म में हमने एक कबाड़ीवाला दिखाया है जो अमीर बन जाता है। उसके बाद वह कैसे अपने पैसे की शान दिखाता है, कैसे उसका रहन-सहन बदल जाता है और कैसे वह अपने बिजनस को बढ़ाता है, इसी पर यह फिल्म आधारित है।’ उन्होंने बताया, ‘इस फिल्म में सभी बहुत मंझे हुए कलाकार है। फिल्म काफी अच्छी बनी है और यह सभी लोगों को काफी पसंद आएगी।’ मिस्टर कबाड़ी में अन्नू कपूर और ओम पुरी के अलावा सारिका, विनय पाठक, राजवीर सिंह, कशिश वोरा और ब्रिजेंद्र काला भी मुख्य किरदारों में दिखाई देंगे।

गौ-सेवा और गौपालन को बढ़ावा देने की जरूरत

रायपुर। कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने गौशालाओं के प्रतिनिधियों और गौ-सेवकों से आम लोगों को गौसेवा और गौपालन के लिए प्रोत्साहित करने का आग्रह किया है। उन्होंने यहां आयोजित गौशालाओं के प्रतिनिधियों की त्रैमासिक कार्यशाला को सम्बोधित करते हुए कहा कि गोधन भारतीय संस्कृति का हिस्सा है। पहले ग्रामीण क्षेत्रों के हर घर में गाय पालते थे। गाय पालन की संस्कृति आर्थिक और धार्मिक महत्व के कारण काफी समृद्ध थी। समय के साथ गांवों में भी गौपालन की संस्कृति धीरे-धीरे विलुप्त होती जा रही है। गौ-सेवा और गौ-पालन के साथ पशुधन के विकास के लिए फिर से आम लोगों में जागृति लाने की जरूरत है। कृषि मंत्री ने कहा कि गाय पालन का काम केवल आर्थिक दृष्टि से नहीं किया जाता। यह कार्य आस्था और विश्वास से भी जुड़ा हुआ है। खेती-किसानी में अधिक उत्पादन लेने रासायनिक उर्वरकों के बेतहाशा उपयोग का दौर चला है। इसके दुष्परिणाम अब सामने आने लगे हैं। रासायनिक उर्वरकों और रासायनिक दवाइयों के उपयोग से खेती की जमीन का ऊपजाउपन प्रभावित हो रहा है। अब फिर से जैविक खेती की आवश्यकता महसूस हो रही है। जैविक खेती को बढ़ावा देने पशुपालन को भी बढ़ाना होगा। राज्य सरकार ने जैविक खेती के लिए प्रदेश में मिशन शुरू किया है। जैविक खेती में उपयोग होने वाली खाद और दवाइयां बनाने गौमूत्र तथा गोबर आदि की जरूरत होती है।
नई गौशाला नीति बनेगी
श्री अग्रवाल ने बताया कि छत्तीसगढ़ की नई गौशाला नीति बनाने का काम तेजी से चल रहा है। इस नीति में गौवंश के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए समुचित प्रावधान किया जाएगा। कृषि मंत्री ने कहा कि प्रदेश के हर जिले में सड़क दुर्घटनाओं में घायल होने वाले पशुओं के इलाज के लिए एम्बुलेंस सेवा शुरू की जाएगी। इसी प्रकार सभी विकासखण्डों में एक-एक गौ संरक्षण के लिए केन्द्र शुरू करने की कार्रवाई भी चल रही है। इन केन्द्रों में सड़कों में या अन्य जगहों में इधर-उधर घूमने वाले पशुओं को रखने की व्यवस्था की जाएगी।
आयोग के अध्यक्ष ने बताई उपलब्धियां
छत्तीसगढ़ राज्य गौ-सेवा आयोग के अध्यक्ष बिशेषर पटेल ने अपने स्वागत उद्बोधन में गौ-सेवा आयोग के कार्यों और उपलब्धियों की विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर गौ-सेवा आयोग के अन्य पदाधिकारी, सदस्य, राज्य शासन के कृषि विभाग के अपर मुख्य सचिव अजय सिंह, संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉ. एस.के. पाण्डेय सहित पशुधन विकास विभाग और गौ-सेवा आयोग के अधिकारी-कर्मचारी, प्रदेश भर से आए गौ-शालाओं के प्रतिनिधि और गौ-सेवक उपस्थित थे।

अखंड ब्राम्हण समाज का प्रथम स्थापना दिवस कल, तैयारी पूरी

रायपुर। प्रांतीय अखंड ब्राम्हण समाज छत्तीसगढ़ जुलाई माह में संगठन स्थापना के एक वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर संगठन द्वारा 16 जुलाई को ‘सामाजिक समरसता दिवस’ का आयोजन किया जा रहा है। आयोजन की तैयारी पर चर्चा में प्रदेश अध्यक्ष पं. योगेश तिवारी एवं प्रदेश सचिव डा. भावेश शुक्ला ने बताया कि संगठन अब तक विप्र समाज हित में ऐतेहासिक समस्त ब्राम्हण युवक-युवती परिचय सम्मेलन, राष्ट्रीय ज्योतिष सम्मलेन आदि विभिन्न आयोजनों सहित विप्र समाज के जरूरतमंद स्वजनों को शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में अंशदान के रूप में आर्थिक सहायता भी प्रदान की गई है। स्थापना के एक वर्ष पूर्ण होने का श्रेय पूरे विप्र समाज को देते हुये आगामी 16 जुलाई को आयोजित कार्यक्रम को ‘सामाजिक समरसता दिवस’ के रूप में मनाया जायेगा, इसके लिये संगठन नारीशक्ति प्रकोष्ठ प्रमुख श्रीमती भारती शर्मा के नेतृत्व में पूरे प्रदेश के संगठन प्रतिनिधियों द्वारा प्रदेश के समस्त विप्र बांधवों को इस आयोजन में उपस्थिति के लिये सघन संपर्क अभियान कर आमंत्रित किया जा रहा है। श्री महामाया देवी मंदिर सत्संग भवन रायपुर में होने वाले प्रांतीय अखंड ब्राम्हण समाज छत्तीसगढ़ के इस आयोजन में पार्थिव शिवलिंग रुद्राभिषेक सहित पचास वर्ष पूर्ण कर चुके वैवाहिक दंपत्तियों एवं संयुक्त परिवार के रूप में निवासरत विप्रजनों को संगठन द्वारा सम्मानित किया जायेगा। सामाजिक एकत्रीकरण के उद्देश्य से किया जा रहा यह आयोजन प्रात: 8 बजे से शाम 6 बजे तक होगा। बैठक में रायपुर कार्यकारिणी के समस्त पदाधिकारियों को आयोजन संबधित दायित्व किया गया। नारी शक्ति प्रकोष्ठ प्रमुख श्रीमती भारती किरण शर्मा ने सभी बहनों के कार्य विभाजन कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए इस अवसर पर श्रीमती निशा तिवारी, श्रीमती सरिता तरुण शर्मा, श्रीमती प्रीति शुक्ला, श्रीमती सुनीता मिश्रा, पल्लवी दुबे, श्रीमती विनीता मिश्रा, शैली श्री शैलेंद्र रिछारिया, पं. विपिन पाठक, पं. सुधीर तिवारी, पं.रोशन शर्मा, पं सौरभ शर्मा, पं राकेश तिवारी, पं अभिषेक शर्मा, पं. रूपेश दुबे, पं. अरविंद झा, पं. सजल तिवारी सहित रायपुर कार्यकारिणी एवं नारीशक्ति प्रकोष्ठ रायपुर के समस्त सहयोगी उपस्थित थे।

देश को बांटने की कोशिश कर रही मोदी सरकार

रायपुर। युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा बरार शुक्रवार को रायपुर पहुंचे। उन्होंने बताया कि पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय इंदिरा गांधी के 100वें जन्मदिवस पर देश भर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ‘मां तुझे सलाम’ कार्यक्रम आयोजित किया। इसी कार्यक्रम में शामिल होने वह रायपुर आये थे। उन्होंने इस मौके पर केन्द्र और राज्य की सरकारों को निशाने पर रखा। उन्होंने कहा कि आज देश को फिर जाति, धर्म और सम्प्रदाय के नाम पर बांटने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने छत्तीसगढ़ के किसानों के हालात पर कहा कि राज्य और केन्द्र दोंनो स्थान पर भाजपा की ही सरकार है। अब क्या कमी है जो किसानों के हालात नहीं सुधर रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसानों की हालात दयनीय है, आत्महत्याएं लगातार बढ़ रही है मगर किसान को बोनस ये सरकार नहीं दे रही है । राजा बरार ने झीरम हमले पर भी निशाना साधा और कहा कि रमन सरकार ने खुद सीबीआई जाँच की बात कही मगर अब तक चुप्पी साधे हुए है । बरार ने नोटबन्दी पर भी केंद्र सरकार को घेरते हुए कहा कि केवल अपना प्रचार करने पीएम नरेंद्र मोदी ने नोटबन्दी कर दी और लाखो लोग लंबी कतारों में आ गए। 2018 में होने वाले विधानसभा चुनाव के परिप्रेक्ष्य में राजा बरार ने कहा कि छतीसगढ़ में नौजवानो को ज्यादा से ज्यादा मौका दिया जाएगा और कांग्रेस की सरकार बनाने के लिए कृत संकल्पित है। इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष उमेश पटेल, विकास उपाध्याय समेत अन्य नेता उपस्थित रहे।

PWD के स्टोर रूम पर मंत्री के निज सचिव के परिवार का कब्जा

रायपुर। छत्तीसगढ़ में सत्ता से जुड़े प्रभावशाली लोगों की मनमानी पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। अधिकारी सबकुछ जानते हुए भी कार्रवाई करने से परहेज कर रहे हैं। ऐसा ही एक मामला रायपुर जिले के टेकार गांव का सामने आया है। यहां की सरपंच सावित्री देवी पाल ने शासन को अवगत कराया है कि गांव के कोलर रोड़ स्थित गौठान चौक के पास वर्ष 2013 में पीडब्ल्यूडी विभाग ने स्टोर रुम का निर्माण कराया था। इस रूम पर प्रदेश के कृषि एवं जलसंसाधन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल के निज सचिव मनोज शुक्ल के परिवार के लोगों ने कब्जा जमा रखा है। स्टोर रूम के साथ ही उस परिसर व आसपास की करीब 5 एकड़ सरकारी भूमि पर भी इन्हीं लोगों ने कब्जा कर रखा है। सरपंत ने मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को पत्र भेजकर मंत्री के निज सचिव के परिवार के लोगों द्वारा किए गए अवैध कब्जे को हटाये जाने की मांग की है।

कोडार डेम घोटाले पर धनेन्द्र साहू ‘सरकार’ से करेंगे सवाल

रायपुर। जल संसाधन विभाग में चल रहे भ्रष्टाचार के खेल का खुलासा होने से कोई रोक नहीं पाएगा। यह मामला अब विधानसभा के सत्र में भी प्रमुखता से उठेगा। महासमुंद जिले में स्थित शहीद वीर नारायण सिंह ‘कोडार’ डेम के सेफ्टी प्रोजेक्ट में हुए घोटाले का मामला एक अगस्त से शुरू होने जा रहे विधान सभा सत्र में कांग्रेस विधायक धनेन्द्र साहू उठाएंगे। कोडार डेम के सेफ्टी प्रोजेक्ट में ठेकेदार सुनील अग्रवाल और अभियंताओं की मिलीभगत से गलत इस्टीमेट और फर्जी माप दिखाकर 1.51 करोड़ रुपये का गलत भुगतान करा लिया गया है। उड़नदस्ता दल द्वारा की गई जांच में इसकी पुष्टि भी हो चुकी है पर दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई नहीं की जा रही है। बजट सत्र में कांग्रेस विधायक धनेन्द्र साहू ने इस मामले को उठाया था। इस पर विभाग के मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने आश्वस्त किया था कि दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। लगा समय बीत जाने के बाद भी दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई नहीं की गई। विधायक श्री साहू ने दूरभाष पर बताया कि एक अगस्त से शुरू होने जा रहे विधानसभा के सत्र में वह इस मुद्दे को जरूर उठाएंगे और भ्रष्टाचार की कहानी का पर्दाफाश करेंगे।

छत्तीसगढ़ के खिलाड़ियों को नौकरी में मिलेगा 2% आरक्षण

रायपुर। छत्तीसगढ़ में खेल को प्रोत्साहित करने के लिए राज्य सरकार ने नई खेल नीति तैयार की है। राज्य बनने के 16 साल बाद पहली बार ऐसा होने जा रहा है जब खिलाड़ियों को सरकार सौगात प्रदान करेगी। इस नई नीति का ड्राफ्ट राज्य के विभिन्न खेल संगठनों से प्राप्त सुझाव के आधार पर तैयार किया गया है। 29 अगस्त को अन्तर्राष्ट्रीय खेल दिवस पर इस नई नीति को लागू किए जान की तैयारी है। नई खेल नीति में छत्तीसगढ़ के खिलाड़ियों को नौकरी में 2% आरक्षण दिया जाएगा। राज्य की राजधानी रायपुर के साथ ही दुर्ग, भिलाई, बिलासपुर और राजनांदगांव में नेशनल स्तर की कोचिंग खिलाड़ियों को उपलब्ध कराई जाएगी। साथ ही खिलाड़ियों को उच्च स्तर के स्पोर्ट्स किट भी उपलब्ध कराए जाएंगे। राज्य के स्पेशल खिलाड़ियों को जिन्होंने विभिन्न स्पर्धाओं में गोल्ड मेडल हासिल किए हैं उन्हें विशेष सुविधा मुहैया कराई जाएगी। खेलों में ओलंपिक गेम्स पर विशेष फोकस किया जाएगा। जिन खिलाड़ियों ने सिल्वर मेडल हासिल किया है उन्हें गोल्ड मेडल के योग्य बनाने के लिए सरकार सुविधा उपलब्ध कराएगी।

यादव महासभा ने की अहीर रेजीमेंट की मांग

–प्रधानमंत्री के नाम पोस्टकार्ड अभियान महासभा ने की शुरूआत
रायपुर। अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा ने केंद्र सरकार से सेना में अहीर रेजीमेंट के गठन की मांग की है। इसके लिए प्रधानमंत्री के नाम पोस्टकार्ड अभियान की शुरूआत अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा तथा युवा यादव महासभा की ओर से रायपुर के तेलीबांधा स्थित कर्मचारी भवन में आयोजित संयुक्त सम्मेलन में हुई। सम्मेलन में 24 सितंबर, 2017 को राजधानी रायपुर में राष्टर््ीय कार्यकारिणी की बैठक का प्रस्ताव पास किया गया। सम्मेलन वृंदावन हॉल, सिविल लाइंस में आयोजित होगा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ राज्य यादव महासभा के प्रांत अध्यक्ष वृंदावन लाल यादव थे। युवा यादव महासभा के अध्यक्ष जगनिक यादव ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। महिला यादव महासभा की प्रांतीय अध्यक्ष श्रीमती मंजू यादव और राज्य यादव महासभा के सलाहकार ब्रिगेडियर प्रदीप यादव कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथियों के तौर पर मौजूद थे। वृंदावन लाल यादव ने कहा कि अहीर रेजीमेंट की मांग अनेक वर्षों से अधूरी है। पोस्टकार्ड अभियान से केंद्र सरकार को इस मांग के महत्व से अवगत कराया जाएगा। अभियान का उद्देश्य समाज को संगठित और संगठन के कार्यों को मजबूत बनाना भी है। देश के सभी राज्यों में सिलसिलेवार कार्यक्रम आयोजित करने की योजना है। जगनिक यादव ने कहा कि समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचना संगठन का उद्देश्य है। लक्ष्य कठिन है। सफलता के लिए कड़ी मेहनत जरूरी है। असंभव कुछ भी नहीं है। समाज के प्रत्येक व्यक्ति को अपने क्षेत्रों में संगठन के लक्ष्यों के अनुरूप काम करने की जरूरत है। कोरबा जिला युवा यादव महासभा के अध्यक्ष मूरत यादव ने कहा कि समाज को आगे बढ़ाने के लिए सभी का सहयोग आवश्यक है। उन्होंने कहा कि यादव समाज देश के विकास में उत्कृष्ट योगदान कर रहा है। पारस्परिक एकता और भाईचारे की भावना से समाज को सुदृढ़ बनाना है। युवा यादव महासभा के उपाध्यक्ष देवेंद्र यादव, रायपुर शहर अध्यक्ष सुंदरलाल यादव के अलावा सदस्य नंदलाल यादव, परदेसी यादव, रमेश यादव, राजू यादव, ठाकुर राम यादव, कन्हैयालाल यादव, श्रीमती सुनीता यादव व कुसुम यादव सहित बड़ी संख्या में विभिन्न जिलों के प्रतिनिधि मौजूद थे।

दारगांव एवं कन्हारपुरी उपकेन्द्र में अतिरिक्त पॉवर ट्रांसफार्मर स्थापित

रायपुर। छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर डिस्ट्रब्यूशन कंपनी द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों को गुणवत्तापूर्ण बिजली प्रदाय करने के उद्देश्य से सब ट्रांसमिशन नार्मल योजना को अस्तित्व में लाया गया है । जिसके जरिए ग्रामीण क्षेत्रों में गुणवत्तापूर्ण विद्युत सुविधा प्रदान की जा रही है। इस योजना के अंतर्गत 33/11 केव्ही दारगाांव एवं कन्हारपुरी उपकेन्द्र में अतिरिक्त पॉवर टांसफार्मर की स्थापना की गई। लगभग 70 लाख की लागत से 3.15 एमवीए के एक-एक नग अतिरिक्त पॉवर ट्रांसफार्मर को ऊजीर्कृत किया गया है, जिससे इन उपकेंद्रों के अंतर्गत आने वाले 12
गांवों के उपभोक्ताओं को गुणवत्तापूर्ण विद्युत सुविधा का लाभ प्राप्त होगा साथ ही यहां के किसानों को लो-वोल्टेज की समस्या से निजात मिलेगी। उक्त जानकारी देते हुए कार्यपालक निदेशक भीम सिंह कंवर ने बताया कि पॉवर कंपनी द्वारा लो-वोल्टेज वाले क्षेत्रों को चिन्हांकित कर वहां के तकनीकी समस्याओं को दुरुस्त करने का प्रयास किया जा रहा है। इस दिषा में आगे बढ़ते हुए सब ट्रांसमिशन नार्मल योजना के क्रियान्वयन में जुटे कार्यपालन अभियंता (प्रोजेक्ट) पीवी सजीव की टीम ने दारगांव और कन्हारपुरी उपकेंद्र में अतिरिक्त ट्रांसफार्मरों की स्थापना एवं उर्जीकरण के कार्य को पूर्ण किया। इससे दारगाांव, उपकेन्द्र के अधीन 07 ग्रामों यथा ग्राम बिरोड़ा, मॉटरा, हरदी, कन्दई, पेन्ड्रीतरई, मोहलई एवं मोहरेंगा तथा कन्हारपुरी उपकेंद्र के अंतर्गत आने वाले 5 ग्रामों यथा ग्राम दानिकोकड़ी, बसनि, करेली, जाताघर्रा एवं परसबोड़ ग्राम के उपभोक्ताओं को बेहतर विद्युत आपूर्ति की सुविधा प्राप्त होगी एवं लो-वोल्टेज की समस्या से निजात मिलेगी। आगे भीम सिंह ने बताया कि प्रदेश की विद्युत अधरोसंरचना को उन्नत एवं विकसित करते हुए उपभोक्ताओं को गुण्.ावत्ता पूर्ण बिजली के साथ ही अनेक अत्याधुनिक सुविधायें देने की पहल की गई है। इसे और सुदृढ़ बनाने हेतु उपभोक्ताओं से यथासमय बिजली बिल भुगतान को आवष्यक बताया। उन्होंने कहा कि उच्चदाब एवं निम्नदाब के समस्त बकायादार उपभोक्ताओं द्वारा यथासमय बिल भुगतान करने से वितरण कंपनी की आर्थिक स्थिति सुदृढ़ होगी और जनता के लिए विद्युत विकास के कार्यों को अमलीजामा पहनाने में मदद मिलेगी।