हर 50 किमी के दायरे में होगा पासपोर्ट सेवा केंद्र

नई दिल्ली। विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर ने शनिवार को कहा कि सरकार भविष्य में देश में हर 50 किलोमीटर की दूरी पर एक पासपोर्ट केंद्र स्थापित करने की दिशा में काम कर रही है। पासपोर्ट एक अधिकार है, यह कोई उपहार नहीं है। अकबर ने उत्तरी कोलकाता के बीडान स्ट्रीट डाकघर में डाकघर पासपोर्ट सेवा केंद्र का उद्घाटन करते हुए यह बात कही। इसी दौरान उन्होंने नाडिया जिले के किशननगर में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एक अन्य पीओपीएसके का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेशमंत्री सुषमा स्वराज का नजरिया है कि हर आदमी पासपोर्ट सुविधा तक पहुंच हासिल कर सके। इसके लिए भविष्य में हर 50 किलोमीटर की दूरी पर एक पासपोर्ट केंद्र होगा। अकबर ने कहा कि एक समय था जब लोग पासपोर्ट की तलाश में थे, अब सरकार चाहती है कि पासपोर्ट आॅफिस अपने नागरिकों की तलाश करें। अकबर ने कहा कि पश्चिम बंगाल में पीओपीएसके सबसे पहले आसनसोल में और फिर रायगंज में स्थापित किया गया। अब सरकार सिलीगुड़ी और दार्जिलिंग में भी इसी तरह के कार्यालय स्थापित करना चाहती है। पासपोर्ट कार्यालय अब ऐसी जगहों पर भी खुलेंगे, जहां पहले कभी कल्पना भी नहीं की गई थी। यह परियोजना डेढ़ साल पहले शुरू हुई थी और अब इसकी गति बढ़ गई है। आने वाले दिनों में आप इसमें और भी वृद्धि देखेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *